Peoples’ Behavior….!!!!

November 14, 2018
Shanky❤Salty

#shankysalty #wordpress #yqbaba #yqdidi #mythoughts #people #yqtales #life

Read my thoughts on YourQuote app at https://www.yourquote.in/stranger-shanky-oa1t/quotes/people-make-new-rules-every-day-two-four-days-you-don-t-meet-hlw6t

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

Advertisements

Women Era….!!!!

November 12, 2018
Shanky❤Salty

#shankysalty #wordpress #menstruation #periods #temple #girls #pain #blood

Read my thoughts on YourQuote app at https://www.yourquote.in/stranger-shanky-oa1t/quotes/much-more-trouble-than-menstruation-woman-ruled-society-jxsux

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky

#yourquote

शुभ दीपावली….!!!!

November 7, 2018
Shanky❤Salty

प्रिय परिवारजनों को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं।

इस दीपावली कम से कम एक ज़िन्दगी रौशन करने की कोशिश करें।

#दीपावली
#collab
#yqdidi #YourQuoteAndMine
Collaborating with YourQuote Didi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky

आख़िर क्यों….!!!!

November 4, 2018
Shanky❤Salty

आख़िर क्यों

अपने सवालों के जवाब चाहियें तो सवाल कीजिये।
#shankysalty #army #abortion
#आख़िरक्यों
#collab
#yqdidi #YourQuoteAndMine
Collaborating with YourQuote Didi

Read my thoughts on YourQuote app at https://www.yourquote.in/ashish-kumar-oa1t/quotes/lddkiyon-ko-kokh-men-maarte-hai-aakhir-kyun-senaa-ke-shaury-jm2qs

समझ नहीं आता….!!!!

October 31, 2018
Shanky❤Salty

कुछ चीज़ें जीवन भर समझ में नहीं आतीं।
ऐसा क्या है जो आज तक आप को समझ नहीं आया।

Collab करें YQ Didi के साथ।
#shankysalty #justice #377
#समझनहींआता
#yqdidi
#collab #YourQuoteAndMine
Collaborating with YourQuote Didi

Read my thoughts on YourQuote app at https://www.yourquote.in/ashish-kumar-oa1t/quotes/nyaaypaalikaa-ki-nyaay-vyvsthaa-diipaavlii-se-phle-pttaakhon-jo0mc

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky

#yourquote

छोटी सी शिकायत….!!!!

October 23, 2018
Shanky❤Salty

शिकायत भी

मोहब्बत का ही एक अंदाज़ है।

कुछ इसी अंदाज़ में

एक छोटी सी शिकायत है।

#shankysalty
#wordpress
#छोटीसीशिकायत
#collab
#yqdidi #YourQuoteAndMine
Collaborating with YourQuote Didi

Read my thoughts on @YourQuoteApp https://www.yourquote.in/ashish-kumar-oa1t/quotes/hai-naa-mujhse-baaten-nhiin-krtaa-hun-islie-yaad-nhiin-krtaa-ji5vj/

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

एक कहानी एैसी भी….!!!!

October 11, 2018
Shanky❤Salty

एक कहानी एैसी भी

जहाँ चंद सिक्कों के लिए

जिस्म बेचा जा रहा है

बात तो हम समलैंगिता कि करते है

पर दोस्ती के पवित्र रिश्ते पे सवाल उठाते है

वैश्यावृति पे बात करते है

पर कोठे पे जा सौदेबाजी करते है

घर पे चुल्हे कि आग जलाने के लिए

रात भर जिस्म को हवस कि आग में वो खुद को जलाती रही

बारिस कि बुंदों में

उसकी आँखों में आँसू देखा है

बच्चों के पेट भरने के लिए

खुद को बजार में बेचते देखा है

उसके शरीर पे चंद खरोचे हि थी

असली जख्म तो दरिंदों ने आत्मा में दि थी

जात-पात कि दुनिया में

वैश्यालयों पे रहती महिलाओं के जात कोई नहीं पूछता

ईश्वर के घर को भी दरिंदों ने नहीं छोड़ा

हवस कि आग में बच्चीयों को जलाकर

दरिंदगीं का छाप है छोड़ा

कच्ची उम्र में वो धंधे पे आईं

हालात कि मार है वो खाईं

हर रात अपनी एक नईं कीमत वो पाईं

उसकी चीख और आँसू भी काम है आते

लोग मुस्कराते हुए पैसे दे जाते

लोगों ने तुम्हें “तोल दिया”

“तुम कहीं भाग गईं” घर वालों नें झूठ है बोल दिया

पर हकिक्त में अपनें नें तुम्हें है बेच दिया

मर्दों में हवस कि आग ना होती

तो घर के बाहर हर बच्चीयाँ महफुज होती

और वह औरत आज तवायफ ना होती

बस इतनी सी ही है लाल बत्ती कि कहानी

Image credit SG16
Special thanks to Shilpa from Meergunj, Allahabad

500Followers….!!!!

October 4, 2018
Shanky❤Salty

Dear Incredible Followers,

It’s kind of overwhelming. For a non writer like me to reach a milestone of 500 Followers in few months this would have been never possible without the love and support of my incredible followers & lovely friends who inspired me to go this far.

Thanks to a platform like wordpress for making this a reality. I would like to conclude my heart felt gratitude with the famous lines of Robert Frost……..

The woods are lovely dark & deep…
But I have promises to keep…..
And miles before I go to sleep….
And miles before I go to sleep….

Dear Heart,

September 29, 2018
Shanky❤Salty

Dear Heart,

How are you? I know you are not good. I’m writing this letter to focus your attention. Dear I request you to please control your feelings because no one will be with you till end. You are not doing your job perfectly. You are too weak dear. Try to work like an organ. Pump blood not an emotions. Understood, What I’m saying??? Beat in synchrony. Just stop skipping beats. The Mind is there to Lead, Control yourself or else you would break to bleed! Otherwise you will again suffer from Sinus-Tachycardia.

क्युं इतना प्यार रखे हो अपने अंदर
सुना है तुझे रोने को जि चाहता है
पर तु जिसे चाहता है
वो तेरा होना नहीं चाहता है

Dear Death,

September 23, 2018
Shanky❤Salty

Dear Death,

I am so glad that I can talk to you now. How lucky you are. I have one question. What happens to us after I die? Do you really take my soul away or take us from the people who need us?

When will you come dear? Please don’t knock the door. Come silently & give me a packet of Little Heart OR just give me a ₹10 MilkyBar chocolate. And say “You have to leave right now”

I promise you ‘I don’t make any excuse and even take time.

My dear death please don’t give me a pain because There are too much pain in my life paths that I suffered.

Death is my final destination
Life is my journey
Happiness & Sadness is my life partner.
I knowing everything but why I afraid from death.
There are too much sad moments in my life’s paths
But
It is also true that happiness is only in the my mother’s food.

I know my lovely death, You are the unspoken truth that everybody knows but still don’t accept.

राष्ट्रभाषा-दिवस……!!!!

September 14, 2018
Shanky❤Salty

मेरी शब्द, मेरी भावनाएँ

मेरा प्रेम, मेरा दर्द, मेरा ज्ञान

सब कुछ तुमसे ही है

पर तुम कहीं खो गईं हो

इस अंग्रेजी की भीड़ में

बचपन में तुमसे मिला था मैं

आज भी याद है

अ से अनार
आ से आम
इ से इमली
ई से ईख
उ से उल्लू
ऊ से उन

तुझ से ही मेरा अस्तित्व है
तु है तो मैं हुं
तु नहीं तो मैं भी नही

कतरा कतरा खोने लगी हो तुम
मेरी जिंदगी कि तरह ही

अब तो तुम अ से अनजान हो गईं हो

मुझ से दुर हो गईं हो
तुम शून्य हो गईं हो

तुम बन जाती विश्व की आवाज
पर अपनो से ही हार गईं हो

लॉर्ड मैकाले कि सोच (हमारी नजरों से देखा जाए तो वह एक साजीस थी)

मैकुलस ने कहा था अगर भारतीय सोचने लगे की जो भी विदेशी है और अँग्रेजी है वही अच्छा है और उनकी अपनी चीजों से बेहतर है तो वे अपने आत्म गौरव और अपनी ही संस्कृति को भुलाने लगेंगे। और वैसे बन जाएंगे जैसा हम चाहते है ।

और बड़े अफसोस के साथ कहना पड़ रहा है की थॉमस बैबिंगटन मैकाले अपने इस मकसद मे कामयाब हुआ।
और जैसा उसने कहा था की मैं भारत की शिक्षा व्यवस्था को ऐसा बना दूंगा की इस मे पढ़ के निकलने वाला व्यक्ति सिर्फ शक्ल से भारतीय होगा। और अकल से पूरा अंग्रेज़ होगा।

और यही आज हमारे सामने है दोस्तो।

आज हम देखते है देश के युवा पूरी तरह काले अंग्रेज़ बनते जा रहे है ।
उनकी अँग्रेजी भाषा बोलने पर गर्व होता है ।

चढ़ गया है हम पर गौरों का रंग
भुल गए है हम अपनी मातृभाषा को
हिंदी तुम चुप चाप ही रहना कोने में
अगर सामने आईं तो लोग हस हस कर मजाक बनाएँगे तेरा
सब को अंग्रेजी ही अच्छी लगती है

तिरस्कृत हुईं है हिंदी
अपने ही घर में हारी है हिंदी
औरों से क्या जीतेगीं हिंदी

परंतु हमारे लिए तो
शान है हिंदी
जुबान है हिंदी
शब्दों कि खान है हिंदी
माँ भारती के सिर कि बिंदी है हमारी हिंदी
सच कहुं तो अभिमान है मेरा हिंदी

YourQuote ने कहा है

“हिंदी हमारी चेतना का अभिन्न अंग है। हिंदी न केवल हमारे विचारों के आदान-प्रदान का माध्यम है बल्कि ज्ञान, विज्ञान और अध्यात्म का विपुल स्रोत भी है।बतौर एक भारतीय हम हिंदी पर जितना गर्व करें कम होगा।”

राष्ट्रभाषा-दिवस की सभी देशवाशियों को बधाई ।

मेरे एक मित्र ने बहुत खुब कहा था
LOL में वह मजा नहीं
जो
बकलोल कहनें में है

Thank You……!!!!!

September 6, 2018
Shanky❤Salty

It is a beautiful day! It is a great reminder of how thankful I am for all the beauty I have in my life. Thanks for being a part of this great feeling! Thank you to all my friends for the birthday wishes, laughs, weird birthday jokes, gifts & everything. You guys are too much. I just wanted to take a moment and say “thank you” to everyone for all of the birthday wishes. It means a lot to me that you all took time from your busy lives to wish me a happy birthday. I feel very blessed to have each and every one of you as my friends. Yes, another long year and another number added to my age, but it is still great to hear from all of you out there. I hope you are all doing well. Thank you so much to all my friends and family.

Special thanks to all my bloggers who are currently globetrotting who still made the effort. I got emails from United States, Spain, Canada, United Arab Emirates, United Kingdom, Indonesia, Japan. Love you all.

My Facebook was acting weird the other day and obviously didn’t post my status, but I just wanted to say thank you so much to everyone who wished me a happy birthday! I am so blessed and couldn’t ask for more. I thank each and every one of you for your lovely ‪‎birthday wishes and for loving me. All of your wishes and blessings mean a lot to me! Sorry, I was busy so I wasn’t able to reply to the few calls & emails from my friends and some close ones. I hope you guys don’t mind. I thank my besties for being around me. I love you guys for making my birthday such a wonderful and a memorable day of my life.

Thank you Bunny B. for giving me such an lovely gift. Really I’m surprised.

Thanks for making me feel special and for being a special part of my life.

Love you all

I so feel humble!

Stay blessed

Teacher’s Day……!!!!!

September 5, 2018
Shanky❤Salty

Dear Teacher’s

To the world you may be a teacher. But to your student you are the hero.
I may not be perfect, but you are the perfect guide for me to have bright future.
I know I’ve not been the same you have expected from me.
I’ve not shown you the results what you wanted from me putting in your efforts. But one thing I bet you’ll be proud of me one day that I was your student.
To My Beloved Teacher, who has inspired many students like me. On this wonderful day I take opportunity to thank you for a playing a significant role in my life and being a major reason for who I’m today I’ll definitely “Make You Feel Proud One Day”. My warmth and lovely wishes to you.
Thank you for making me realize that its not how we’re told as we grow up For shattering the myths in my mind. About people about society Before it was too late For putting me in all good and bad situations Grinding me to evolve and for making me fall again and again So that I can get up on my own. I hope you’ll start appreciating me soon Don’t you think I’ve scored good in your exams? But above all thank you for making me strong you’ll always be my favorite teacher.

Thank you so for your unbeatable support🙏

Image credit SG16

दुनिया…..!!!!

August 30, 2018
Shanky❤Salty

किसी के पास कुछ ना हो तो हस्ती है ये दुनिया,

किसी के पास सब कुछ हो तो जलती है ये दुनिया,

पर मेरे पास जो है उसके लिए तरशति है ये दुनिया।

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

रात बहुत लम्बी है यारा…..!!!!

August 27, 2018
Shanky❤Salty

तुम आओ इन नैनन में
तुम्हरा ख़्वाब ही सहारा है
रात बहुत लम्बी है यारा..

किसका दिल नहीं पुकार उठता है जब याद आती है।

#रातबहुत
#yqdidi #yqbaba
#challenge #shankysalty #YourQuoteAndMine
Collaborating with YourQuote Didi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

रक्षाबंधन…..!!!!

August 26, 2018
Shanky❤Salty

है तो यह भाई-बहन का पर्व

पर इस पर्व को हमारा पूरा परिवार साथ मनाता है

दीदी हर साल स्पीड पोस्ट से राखी भेजती है

मेरे लिए

पापा के लिए

और

मम्मी के लिए

रक्षाबंधन के दिन मम्मी उस रखी को ईश्वर को बाँध कर पूजा करती है

फिर

मैं पापा को राखी बाँधता हुं

मम्मी मुझे

और

मैं मम्मी को राखी बाँध कर

रक्षाबंधन का पर्व मनाते है

बचपन के सिर्फ सात-आठ साल

मैं और दीदी रक्षाबंधन का पर्व साथ मनाये होगें

और अब वह यादें भी धुन्धली हो गई है

बचपन में रक्षाबंधन के दिन

दीदी तुम्हारी एक शर्त रहती थी

“मेरा पैर छुएगा तब ही राखी बाँधुगी”

मेरा भी एक शर्त रहता था

“ठीक है तो हम राखी बाँधनें के बाद पैसा नहीं देगें”

फिर तुम डाँट सुनती थी

और

मैं मार खाता था

फिर मैं तुम्हारा पैर छुते वक्त पैर में चीटी काटता था

और

तुम मुझे मिठाई नही खिलाती थी

ये सब बातें तो उस वक्त छोटी लगती थी

टीवी के रिमोट के लिए हर वक्त लड़ाई करना

कम्प्यूटर में प्रोजेक्ट औन आईं.जी.आईं के लिए युद्ध करना

अपना दूध तुमको बहला-फुसला कर पिला देना

और

तुम मेरा झूठा तारीफ कर मैगी बनवाती थी

अब जब हम दोनों बड़े हो गए है तो ये सब बात याद कर हँसी आ जाती है

आज से कुछ साल पहले जब तुम्हारे पास मैं गया था तो तुम मुझ से बहुत काम करवाती थी

हर वक्त झूठा तारीफ कर चीकेन बिरयानी बनवाती थी

दिन में मुझे सोने का आदत है तो तुम मुझे अॉफिस से फोन कर उठा देती

ये सब छोटी छोटी बातें उस वक्त तो बहुत बुरी लगती थी पर यह सब यादें अब खुशी देती है

अब एक दुसरे को तंग करने के लिए कुछ भी करते थे
हम दोनों दुश्मन से कम नहीं थे

पर पिछले साल जब मैं जिंदगी की जंग मौत से लड़ रहा था

तब तुम मेरे एक मेसेज पे चेन्नई से हरियाणा मुझ से मिलने आ गईं

वो भी इतनी जल्दी अॉफिस से छुट्टी ले के

मन ही मन तुम रो रही थी पर दिखा नहीं रहीं थी

मैनें नोटिस किया था

तुमने मुझे सोने की राखी भी बाँधा था

और

मेरे लिएे छुपा के केक भी लाया था तुमने

मुझे ये सब मना था फिर भी तुमने मुझे अपने हाथ से खिलाय

सिर्फ मेरी खुशी के लिए

मुझे भुख लगी थी तो तुमने मुझे चम्मच से इन्सीयोर+ पिलाया वो भी चौक्लेट फ्लेवर का

और

व्लि चेयर से घुमाया भी था

कैसे भुल जाऊँ ये सब

दीदी तुम प्यार तो करती हो पर नजर नही आने देती हो

पिछले साल लाचार था इसलिए सिर्फ अपना एैप्पल जुस हि तुमके दे पाया था

पर इस रक्षाबंधन तुम्हारी दुआ से मेरी जिंदगी की जंग जो मौत से थी वह मैं जीत गया

रक्षाबंधन में भाई अपनी बहन को रक्षा का वचन देता है और वक्त आने पे फर्ज नीभाता है। पर तुमने तो बीना वचन के अपना फर्ज निभाया है दीदी।

कलाई पे धागा बाँधने का बड़ा महत्व है

पर ध्यान रहे

ये रिश्ता में कभी कोई दरार ना आए

पास रहें या दुर इस बात कि चिंता मत करना

ख्याल रखें मम्मी-पापा का इस बात का ध्यान है रखना

वैसे फोन पे तो चुगली होते ही रहेगी😜

बस अपना बैंक एकाउन्ट चेक कर लो कंजुस दीदी😊

रक्षाबंधन की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ

RIP…..!!!!

August 16, 2018
Shanky❤Salty

ठन गई!
मौत से ठन गई!
जूझने का मेरा इरादा न था,
मोड़ पर मिलेंगे इसका वादा न था,
रास्ता रोक कर वह खड़ी हो गई,
यों लगा ज़िन्दगी से बड़ी हो गई।
मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं,
ज़िन्दगी सिलसिला, आज कल की नहीं।
मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं,
लौटकर आऊँगा, कूच से क्यों डरूं?
तू दबे पांव, चोरी-छिपे से न आ,
सामने वार कर फिर मुझे आज़मा।
मौत से बेख़बर, ज़िन्दगी का सफ़र,
शाम हर सुरमई, रात बंसी का स्वर।
बात ऐसी नहीं कि कोई ग़म ही नहीं,
दर्द अपने-पराए कुछ कम भी नहीं।
प्यार इतना परायों से मुझको मिला,
न अपनों से बाक़ी हैं कोई गिला।
हर चुनौती से दो हाथ मैंने किये,
आंधियों में जलाए हैं बुझते दिए।
आज झकझोरता तेज़ तूफ़ान है,
नाव भंवरों की बांहों में मेहमान है।
पार पाने का क़ायम मगर हौसला,
देख तेवर तूफां का, तेवरी तन गई।
मौत से ठन गई!
Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

आजादी का पर्व……!!!!

August 15, 2018
Shanky❤Salty

काफी दिनों के बाद मैं आज सुबह जल्दी उठा
क्युकिं पापा को आज ऑफिस जल्दी जाना था
घर से बाहर निकला दूध लाने को
तो थोड़ा अचम्भित रह गया

सड़के साफ सुथरी नजर आ रही थी
हर दुकान तिरंगे से सजा हुआ था
हर गाड़ी पे तिरंगा लगा हुआ था
छोटे छोटे बच्चे हाथों में तिरंगा लिए स्कूल जा रहे थे

तभी मेरे फोन पे एक मेसेज आता है
सुप्रभात!!!!! हैप्पी इंडिपेंडेंस हे!!!!!

और मुझे ज़ोर से हँसी आती है
क्युकिं आज वही आजादी का पर्व है जब
लाल किले से कोई पगड़ी वाला
आपना मौन व्रत तोड़ेगा
और देखकर भाषण पढ़ेगा

या
कोई छप्पन इंच सिने वाल
नई-नई योजनाएँ लाएगा, सरकार कि उपलब्धियाँ गिनाएगा

आज बड़ी-बड़ी दुकानों में
बड़े-बड़े अॉफर मिलेंगे
पर हर चौराहे पे एक गरीब बच्चा
फटे-पुराने कपड़े पहने
तिरंगा बेचते जरूर मिलेगा
और कुछ वाहियात इंसान वहाँ देखने को भी मिलेगे
जो उन बच्चों से तिरंगे लेते वक्त मोल-भाव करते नजर आएँगे

पूरे देश में सुबह से शाम तक
हर जगह आजादी का पर्व मनाया जाएगा
सोशल मिडिया भी हर जगह तिरंगें के रंग में डूबा नजर आएगा
फिर रात होते-होते सब खत्म हो जाएगा

अगले दिन फिर सड़के गंदी ही मिलेगी
देश का झंडा कहीं ना कहीं गिरा हुआ जरूर मिलेगा
पगड़ी वाले का मौन व्रत फिर से शुरू होगा
छप्पन इंच का सिना फिर सिकुड़ेगा

क्युकिं आजादी का पर्व जो खत्म हो गया है
भ्रष्टाचार कर लोग आपनी जेबें गरम करेंगे
लड़कीयों को छेड़ कर गुंडें-मवाली आपनी आँखें सेका करेंगे
बलात्कार और रेप कर आपनी हैवानीयत का प्रदर्शन करेंगें
जाती और धर्म के नाम पर दंगा कर नंगा नाच करेंगे
और जो कुछ भी बचा हो वो सब हम करेंगे
क्युकिं आजादी का पर्व जो खत्म हो गया है

देश कि हालाता बहुत अजीब सी हो गई है
हर गली में एक रोता हुआ आशिक जरूर मिलेगा
हर गली में एक इंजीनियर जरूर मिलेगा
हर गली में एक डॉक्टर जरूर मिलेगा
पर शायद ही एक एैसा इंसान मिलेगा जो गर्व से सेना को या देश को समर्पित होता नज़र आएगा
लेकिन हर गली में देश को बर्बाद करने वाली एक सोच जरूर मिलेगी
जो कभी भगवे रंग से
तो कभी हरे रंग से
तो कभी सफेद रंग से
नफरत करती नजर आएँगी

पर उन छोटी सोच वालों को कौन समझाए
कि जिस रंगों से उन्हें नफरत है
अगर वो सभी रंगों को जोड़ दिया जाए
तो वह भारत देश का झंडा “तिरंगा” बन जाता है
और वह बिन हवा के तिरंगा आज भी लहरा रहा है
क्युकिं सेना का जवान और खेत का किसान
बिन बेईमानी जी रहा है

सोच अच्छी हो और देश के लिए कुछ करने के लिए आगे बढ़ो तो
कुछ एैसे अधिकारी सामने आ ही जाते है
जो कहते है “ये सब से तो देश को फायदा होगा पर हमारा क्या फायदा”

Continue reading “आजादी का पर्व……!!!!”

हैप्पी फ्रेंडशिप डे…..!!!!

August 5, 2018
Shanky❤Salty

दोस्त जब साथ हो

तो किसी और कि क्या जरूरत है

दुनिया में सबसे खुबसुरत

तो दोस्त कि दोस्ती है

थोड़े पागल हो तुम

थोड़े कमिने हो तुम

थोड़े बड़बोले भी हो

कंजुस तो बड़े वाले हो

चाहें जो भी हो

कमाल के हो तुम मेरे दोस्त

तुझसे खुन का रिस्ता तो नहीं है

पर तुम सब

मुझे खुन देने को हर दम तैयार रहते हो

हमारा दिल का रिस्ता है

इसलिए दिल में जगह दिया करो

मेरे दोस्त गजब के जादूगर है

रोते को भी हसा देते है

और हसते को भी रुला देते है

बचपन में गली-मोहल्ले में यार बन जाते थे

बड़ा हुआ तो यारा तेरी यारी समझ आ गई

अब सोशल-मिडिया के जमाने में भी कुछ

बेहतरीन और नायाब दोस्त मिल हि जाते है

मेरी जिन्दगी का सुरज कब की डुब जाता

अगर तुम जैसा दोस्त ना मिला होता

ये सब तुम अच्छे से जानते हो

पास रहु तो पार्टी-पार्टी करते हो

दुरु रहु तो मेरी सलामतगी की दुआ करते हो

चार साल है देख लेगें

कहते-कहते

दस दिन आ गया था

और

वो भी पल भर में चला गया

मैं कहता हुं पूरी जिंदगी है दोस्त

ये दोस्ती हम अाखरि सांस तक निभाएगें

बस कभी मुझ से रूठ मत जाना

गलतीयाँ माफ करना हो गई जो मुझसे

ऐ प्यारे दोस्त

अगर मैं कभी रूठ गया तो कुछ नहीं

बस आ के गले लगा लेना

फिर साथ बैठ चुगलियाँ करेंगे

ये सर है अमानत माँ-बाप का

किसी और के सामने झुकाया जाता नहीं

ये दिल है दोस्तों का

किसी और को बैठाया जाता नहीं

यादों के पन्नों से…..!!!!

August 2, 2018
Shanky❤Salty

मैंने सुना है

जिन्दगी सिर्फ दो पल कि होती है

तुम सिर्फ वो दो पल मेरा साथ दे दो

मेरे लिए वो दो पल

दिन और रात है😛

तुम मुझे अपनी प्यारी सी मुस्कुराहट ही दे दो

हर पल मुझ से बात करो

एैसी चाहत नहीं है हमारी

बस तुम

यादों में रहो

धड़कन में रहो

सांसों में रहो

हाँ कभी-कभी सपनों में भी आ जाया करों

मुझे फोन कर के झूठी तसल्ली ना दो

बस तुम बैठी रहो

महफिल का रंग बदल जाएगा

रोता हुआ दिल भी संभल जाएगा

तेरा एक मुस्कुराता हुआ चेहरा

मेरी जिन्दगी को जन्नत बनाता

मुझे इस वक्त इतना ही कहना

ना कोई फरियाद सुनाना

ना कोई दर्द बतलाना

तुम ही मेरी यादें हो

तुम ही मेरी सांसें हो

तुम ही मेरी खुशियां हो

तुम ही मेरी ♥Salty♥ हो

An Angels With An Injections….!!!!

July 30, 2018
Shanky❤Salty

Dear Nurses,

I’m writing to tell you how grateful I’m that you were the sister assigned to me when I suffered from “Neurofibromatosis” since 2014. The competency of you and your team was awe inspiring and I couldn’t have been more lucky that you were the nursing staff on duty. The fact that I am still here is a miracle. I know that you probably save a lot of lives in a given year, but I want to let you know that this life has been forever grateful. The work you do is so important. And you excel at your work in every way possible. I can’t thank you enough for the care and attention you gave me over the last few years.

This few years has been a very difficult time for our family, but it could have been much worse were without your dedication and expertise. My family and I are truly grateful for the level of care. But, we’re also grateful for the time you took to talk with us to help us better understand our options.

I was admitted first time in ‘2014 May and my surgery was done. After that, I came for next surgery in ‘2016 June but unfortunately I was diagnosed by Acute Liver Infection. Next I was admitted in ‘2017 June for surgery, this period was very critical for me as surgery took 9 hours, along with continuous bleeding. I was shifted to ventilator for 4 days and 5 days in ICU. 4th time. Admitted in ‘2018 Feb for minor surgery. And lastly, I admitted this time i.e ‘2018 July for surgery but my families, friends, fan-followers blessing helps me. And my surgery got cancelled and I may get cured by medicines.

You treated me like I was as important as a family member. You truly care for your patients and it shows. I appreciate all that you did for me or the other patients.
Your expertise proves that nurses are just as important as doctors. If it weren’t for you I don’t know how things would have turned out.
You do so much more than just take care of people well. You are part teacher, part motivational speaker, and part therapist.
I’m glad you went into nursing. You could have chosen many different professions, but you made the choice to give to others and serve with your skills. You all are one of the best human being that I’ve met. I have a deep respect for what you do and the passion you bring to your work.
Thank you for your patience with me as I recovered. I know I’m not the easiest patient to deal with when I’m in Operation theatre or in Recovery room or in I.C.U or specially when you prick the cannula in my veins.

When you first introduced yourself, I didn’t realize how lucky I was to get such a great nurse. I hope to stay well, forever, but if I ever need help again, I hope to have someone as great as you are helping me.

There’s a special place reserved for people like you. You are a lifesaver.

What would I have done without your help.
I’ll never underestimate the power of a nurse. You have been amazing!
You need a raise! I’m sure already knows you all are an excellent nurse.
Thanks for being a caregiver, communicators, patient advocates and decision makers. You are the hand-holders, the 5am vitals-checkers, 12hours night shift. You become the around-the-clock best friend by the bedside, the calming voice, the familiar face full of compassion.

So, thank you. My family and I will never forget what you’ve done for us.

Thanks for all that you do! And special thanks to all the nursing staff’s of B-Wing, 9th floor, IPD Building, Medanta – The Medicity, Gurugram.

Not Available….!!!

July 24, 2018
Shanky❤Salty

Hello my wonderful Bloggers, incredible Followers & lovely Visitors.

I’m not available for some days because I’m suffering from Neurofibromatosis . Right now I’m admitted in Medanta – The Medicity, Gurugram. After few days my 8th surgery will be done. I will handover my cell phone to my father soon. So, request you to don’t call me. If urgent please text.

200Followers…!!!

July 18, 2018
Shanky❤Salty

Dear Incredible Followers,

Today evening, I was thrilled to discover that I’d reached the 200 followers milestone on WordPress. Thank you so much to everyone who visit my blog post. It really means a lot to me. Many thanks too for all the congratulatory messages from around the globe!

When words fail to describe what a human feels and the pen may stand up.

Honestly, I am not really a very popular which makes this feel like I have a lot person of friends. Thanks followers, visitors and supporters.

Life is running so fast….And I have very short time to reached my 200Followers destination..

बेनाम लोग…..!!!

July 17, 2018
Shanky❤Salty

चम्मच जिस बर्तन में रहता है
वह बर्तन को धीरे-धीरे खाली कर देता है
इसलिए समझदार बनो
और
चम्चों से सावधान रहो

Thank you Mr. Pradhan Adwitiya for suggesting the title

#shankysalty #wordpress #चम्मच #yqhindi #mythoughts #myquote #yqdada #people

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

Bunny B….!!!!

July 16, 2018
Shanky❤Salty

जिंदगी का खास है तु

ये दिन तुम्हारा क्या कहुं

चाहता हूं यही

बस घड़ी दो घड़ी साथ रहुं

You have became bit old
Not only by body
But also by heart
You have became bit more matured
And God knows
He has created a Special Human Being
The Time has come of which we were waiting for
This is a special day for you & us
I can’t change the past
Nor do I want to
Everyday is a new start
When spent with you
An amazing journey with roads have no end
Is what life is, when lived with a real friend-cum-brother
From smile to tears, from happenies to strife
You are the best thing that happened in my life

Happy Birthday ❤Bunny B❤

#shankysalty #wordpress #yqbaba #birthday #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

1000 Likes….!!!

July 13, 2018
Shanky❤Salty

I can not say how much I appreciate reaching 1000 likes on wordpress. Never in my years of blogging have I thought one day I would reach 1000 likes. So thank you for this milestone.

Even though I’ve been posting things irregularly on the Shanky❤Salty blog, this little notification came to my attention.

1000 likes on my blog!

I would have never reached it without my amazing followers & my lovely visitors.

भारतीय सेना…..!!!

July 12, 2018
Shanky❤Salty

Mr. Adwitiya Pradhan is our Future Army Officer.

सरहद कि लड़ाई को कोई क्या जाने
यहाँ तो लोग ‘काउंटर स्ट्राईक’ और ‘मिनी मिलिशिया’ में एक दूसरे पे अटैक करने में लगें है।

बिन हवा के तिरंगा आज भी लहरा रहे है
क्युकिं सेना का जवान और खेत का किसान
बिन बेईमानी जी रहे है

आग सी गर्मी
बर्फ सी सर्दी
हो गए नतमस्तक
जब पहने देश के जवान वर्दी

लाशों का शिकार नहीं करता
पीठ पर वार नहीं करता
घुस कर सीने पे मारता हुं
सरहद कि रक्षा करता हुं

देश कि बोली लगाई देशद्रोहीयों नें
साक्ष्य माँगे सेना के शौर्य पे
मनोबल तोड़ते
सियासत कि रोटी के लिए

छप्पन इंच सिना भी सत्ता में सिमट गया
हम कड़ी निंदा करते है
और
गर्व है हमें इनकी सहादत पर
इनका नेता कह गया

जो देश के दुश्मनों को धुल चटाता है
जो हमें रातों को चैन कि निंद सुलाता है
ये हमारी सेना का शौर्य बल ही है
जो हमें अभिमान कराता है एैसे वीरों पर

युद्ध का लाल रंग
इन्हें कुछ ज्यादा पसंद आ गया
सरहद पर तिरंगा
कुछ उचा लहरा गया

जवानों ने अपनों का सुख खोया
पर करोड़ों देशवासियों का प्यार और दुआ पाया

हम इस जिंदगी को जहन्नुम कहते
रोते-रोते जिंदगी काट रहे
जरा देखो तो मेरे प्यारे जवानो को
हसते-हसते माँ भारती के लिए शहीद हो रहे

नमन है उस माँ की परवरिश को
जिसने उस औलाद को जन्म दिया
जो छोड़ गया उस माँ को
भारत माँ के लिए

बहुत खुब फरमाया था
सेना के एक अफसर ने

कुछ तो बात है मेरे भारत देश कि मिट्टी में
जो सरहद पार कर आते है यहाँ दफन होने

Image credit SG16

गरीबी…..!!!

July 9, 2018
Shanky❤Salty

मुझे आज कुछ कहना है
इस गरीबी पे
इस भूख पे
क्युकिं आज मैंने गरीबी और भूख को पास से देखा है

चार दीवारी में बैठ कर
मैं घर बनवा रहा
बाहर कड़ी धूप में मजदूर-मिस्त्री को जलते देखा
ताकि वो अपने घर का चुल्हा जला सके

गरीबी बिन माँगे हुनर देती है
बीस कि उम्र में मजदूरी करना सिखा देती है
चावल के कुछ दाने ही काफी है भूख मिटाने के लिए
सुना है गरीबी फरमाईस का मौका नहीं देती है

गरीबी जान निकाल देती है
सपनों को कैद कर
आँखों से आँसू निकाल देती है
पेट कि आग को भात-भात कह कर मौत देती है

कोयले के खदान में एक भूत देखा
कालिख से पूता हुआ था
कोयले के खदान में आग लगा था
पर शायद उस भूत के पेट में आग लगा था
सरकार इसे कोयला चोरी कहती है
लेकिन भूल जाती है अपने किये हुए वादे!!!
कोई भूखे पेट नहीं सोएगा!!!
कोई बेघर नहीं रहेगा!!!
बाल मजदूरी रूकेगी!!!
गरीबी मिटेगी!!!

पगड़ी वाले से चाय वाला आ गया
पर कभी किसी को
गरीबी-बेरोजगारी-भुखमरी के लिए गठबंधन करते नहीं देखा गया!!!
वादों से आपनी झोली भरना आता है इन्हें
पर भूखे का पेट भरना नहीं आता है

गाँव से गुजर रहा था
एक झोपड़ी के बाहर सुस्वागतम् लिखा था
शहर आया, और देखा
एक अलीसान मकान के बाहर कुत्ते से सावधान लिखा था
आप भी देख सकते हो
गरीब के पास धन कि दरिद्रता
परंतु उसका ह्रदय दरिद्र नहीं है

किसी कि बाहरी चमक से उसकी पहचान नहीं होती
उसकी सोच, ह्रदय का भाव मायने रखता है

किसी गरीब ने सच ही कहा था

मेरी ये भूख भी पेट से है मालिक
हो सके तो इसका भी गर्भपात करवा दो

Image credit SG16

I Know…..!!!!

July 7, 2018
Shanky❤Salty

I know you are there
Something near
I know you are around me
Whenever I hear
I know you care
But you never share
I know you miss me
But you don’t wish me
I know you hold me tight
Whenever we’ll fight
I know you’ll be always with me
Whenever I need you or make a mistake

#shankysalty #love #pain #wordpress #yqbaba #yqtales #yaaden #yqdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

Thank You Doctor!!!

July 1, 2018
Shanky❤Salty

As per a study by World Health Organization, India has seven doctors per 10,000 people. And it’ll need 2.07 million more doctors by 2030.
So take this day and thank your family doctor or any doctor you know for the matter.

For saving my life….
With your efforts I was able to come out from my Neurofibroma & many more disease that you know.
A bleeding from my mouth which was killing me inside which had developed a fear inside me.
Every day I was suffering from it inside yet try to be happy outside. Even the depression was about to cause me. But with your willingness and trust I got rid of it…
Today is an first anniversary of my 6th surgery. Thank you for supporting me in Recovery room & I.C.U.

Now, I’m ready for my 8th surgery.
Thank you Dr Aditya Aggrawal & your superb team.

#Collab Challenge #shankysalty
#yqtales #YourQuoteAndMine
Collaborating with YourQuote Baba

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

100 Followers!!!!

June 16, 2018
Shanky❤Salty

This is so exciting for me! It is such a huge goal for me to reach – this is a goal.

Thank you so much to all of my followers & visitors for making this journey a positive and enlightening experience for me, but also for believing in me and my writing. I literally could not have done this without you and I’m so proud of the goals I have achieved so far.

I will continue to write on this blog for as long as I want to, which will be a very long time if things keep going this well for me, starting this blog is the best thing I have ever done. I have gained confidence in my writing and myself making me a lot happier with who I’m and you all helped with that. Thank you.

Now to set another goal. 200 wordpress followers. Let’s hope it happens. 🙂

500 Likes!!!!

June 1, 2018
Shanky❤Salty

Thank you very much for all your continued support and helping us to reach upto 500 likes on WordPress. We sincerely appreciate all of our visitors and followers make efforts to give back to those who have helped us along the way.

One of the great things about being recognized is that you receive this feedback from people. It is easy to see how sincere people are. They’re giving sincere appreciation. And it’s not that easy to express.

I wanted personally to let you know how gratifying it was to receive your support and encouragement.

I was captivated when I received your compliment also your valuable suggestion and was manifested pleasure reading your beautiful words. Thank you.

Looking at how obliged and indebted I am feeling towards you right now, I have realized that kindness is actually one of the greatest weapons of any person can ever have. Thank you.

Thank you very much for telling me how much you have enjoyed reading my column.

रोटी………

May 22, 2018
Shanky❤ Salty
Thanks to Mr. Sachin Gururani for suggesting this topic. Also thanks to Savitha Kartha for suggesting some point for this topic.

गरीब मेहनत करता है
दो वक्त कि रोटी पाने के लिए

अमीर मेहनत करता है
दो रोटी पचाने के लिए

किसी के पास ताजी रोटी खाने के लिए वक्त नहीं
तो किसी के पास खाने को बासी रोटी तक नहीं

हमने कुछ एैसे भी देखें है
जो अपनों के लिए रोटी छोड़ देते है
और कुछ एैसे भी देखें है
जो रोटी के लिए अपनों को छोड़ देते है

हम जिसे रोटी कहते है
गरीब उसे भूख कहते है
अमीर उस रोटी को तीजोरियों में कैद रखते है

एक भीखारी भी रोटी खा लेता है
घर-घर भीख माँग कर
पर
रोटी कमाने वाले ही अकसर घर छोड़ जाते है

भूखे पेट को मोहब्बत है रोटी से
रोटी को भी बिना सर्त मोहब्बत है भूख पेट से

कचरे में फेंकी गई रोटीयाँ रोज ये बयां करती है
कि पेट भरते ही इंसान अपनी औक़ात भूल जाता है

मेरे दोस्तों के कुछ शौक पुरा न हो सके तो खुद को गरीब कहते है,
पर यारों गरीब वो होता जिसे दो वक्त की रोटी न हो सके नसीब।

प्यारी ❤SALTY❤ ने मुझसे कहा था
रोटी तो बनानी सीख ली हुँ पर माँ के प्यार भरे हाथों की स्वाद नहीं होती उसमें

दर्द को मरहम,
भूखे को रोटी,
प्यासे को पानी,
अशीक को उसकी आशीकि
से जो मिले,
वो बेहिसाब।

तुम आओ तो……….

May 20, 2018
Shanky❤Salty

तुम्हारे बिना ये फ़ुरसत किस काम की।
ये आराम किस काम काम।
कुछ आगे की सोचूँ अगर तुम आओ तो…

https://ashish05shanky.wordpress.com

#तुमआओतो #shankysalty
#yqdidi #yqbaba
#collab #YourQuoteAndMine
Collaborating with YourQuote Didi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky

आंसू……..

May 8, 2018
Shanky❤Salty

स्वाद आंसूओं का बदल जाता है
खुशी के लगते मीठे
गम के होते कड़वे
हमारे प्यार के होते नमकीन
और
जो अांसू वो न देख पाए
जो बहे थे सिर्फ उसके लिए
अक्सर लगते मुझको फिके

#shankysalty #yqhindi #lovequotes #tears

Follow my writings on https://www.yourquote.in/ashish05shanky #yourquote

मुखौटा……

May 7, 2018
Shanky❤Salty

मुखौटे बचपन में देखे थे, दुकानों में टंगे हुए…

बड़े हुए तो देखा लोगों पे चढ़े हुए…..

सबके चेहरे पे चढ़ा मुखौटा

  • हँसी का मुखौटा
  • अच्छाई का मुखौटा
  • ईमानदारी का मुखौटा
  • दोस्ती का मुखौटा
  • प्यार का मुखौटा
  • अपनापन का मुखौटा

वाह रे मुखौटा, तेरे तो कई रुप है

इस मुखौटा से लोग असली रूप छिपाए है

चेहरे पे मुस्कुराहट का मुखौटा
मुखौटे के पीछे गालियाँ

दरिया-दिली का मुखौटा
मुखौटे के पीछे दिल में खोट

समाज सेवा का मुखौटा
मुखौटे के पीछे खुद कि सेवा

दोस्ती का मुखौटा
मुखौटे के पीछे मतलब पन

प्यार का मुखौटा
मुखौटे के पीछे दिखावा

मुखौटा लगाए राह दिखाए
पल पल कांटे बिछाए

मुखौटा लगाए अपना गीरेबान न देखे
लाखों दाग छिपाए

मुखौटा लगाए दूसरों के गीरेबान पे
पाप पाप चिल्लाए

आखिर किसे ने सच हि कहा है

मुख में राम बगल में छुरी

और दर्द देता जाए

आखिर वक्त है, उतार फेंकों ये मुखौटा
आ जाऔ असली रूप में, गले लगाने को बेताब है

जिन्दगी कि जंग मौत से…..

April 30, 2018
Shanky❤Salty

मैं भी बिस्तर पर लेटा था
9 घंटे कि मौत से जंग के बाद

मैं कहाँ हूँ?

मेरा गला पीड़ादायक लगता था
मेरा दिल दर्द में चिल्लाता था

मैं चारों ओर देख रहा था

मैं एक सफेद चादर से लिपटा था
जो खुन से चंद मिनटों में लाल हो गया

मुझे स्थानांतरित करने के लिए
मेरे दस्तखत कि जरूरत थी

मुझे मृत्यु का भय था

क्युकिं मौत से जंग अभी अधूरी थी

मेरी ख्वाहिश माँ-पापा को देखने कि थी
मैं शांत होने की कोशिश करता तो
चंद मिनटों में रक्त कि नदियाँ मुँह से शुरू हो जाती

मैं लाचार महसूस कर रहा था
मेरे साथ क्या हुआ था?

मैं अभी भी बिस्तर पर लेटा था
मम्मी-पापा आँखों में आंसु लिए सामने थे

पापा के आँखों से मेरे मौत के नाम का आंसु बह गया था
मैंने हाथ बढ़ाया आखिरी सप्रश के लिए!!!!
तब-तक पापा ने
मेरे मृत्यु के कागज पे दस्तखत कर दिए

मैंनें भी उस कागज पे “DEATH???” लिख दिया
फिर मुझे ऑपरेशन कक्ष में स्थानांतरित किया गया

एक कैमरा नाक मे डाल दिया
और लाइव अॉपरेशन सुरू किया
दर्द ने मुझे अपनी बाँहों मे जकड़ लिया

मेरी आँखे बंद हो रही थी
शायद मैं मृत्यु के गोद में था

ह्रदय कि गति अधिकतम 147bpm हो गई थी
और न्यूनतम 27bpm
मृत्यु गले लगाने को बेताब थी
क्युकिं किसी अपने ने मेरे मरने कि दुअा कि थी

पर मौत को मात देना मेरे नसीब में है
क्युकिं मेरी किस्मत में

  • मम्मी का विश्वास
  • पापा का प्यार मे रोना
  • दीदी का रोते हुए राखी बांधना
  • दोस्तों की दुआ
  • ईश्वर के सामने मेरी सलामतगी के लिए उपवास रखना
  • डॉक्टरों की मेहनत
  • नर्सों की सेवा

4दिन वेंटीलेटर पे मौत से जंग
5दिन आईसीयू में जिंदा लास बन के रहना

मुझसे मिलने को बेताब हर कोई था

या

मेरी मौत कि खबर जानने को बेचैन

मैं 4913 में बेजान सा पड़ा हुआ
मैं यहाँ क्यों हूँ?

क्युकिं मै चल नहीं सकता था
बोल नहीं सकता था
खा नहीं सकता था
मेरे हाथ ने भी अपनी शक्ति खो दि थी

सिर्फ

देख सकता
सुन सकता
और जैसे-तैसे अपनी पिड़ा को सफेद कागज पे लिख देता

मैनें ज़ोर से आवज निकाला
मम्मी दौड़ के आई
मेरे दिल पे हाथ रखी
मेरा ह्रदय जोर से धड़क रहा था
शायद मृत्यु दस्तक दे रही थी
मेरा शरीर दुख़ रहा है
मुझे याद है

मैं एक बिस्तर पर मौत को मात देे लेटा था
पर रक्त अभी भी हर सुबह मेरे मुँह से आता था
सायद मैं उसे पसंद था

मुझे याद है
21दिन कि ये अस्पताल कि बदनाम कहानी
और खून कि नदियाँ
मुझे याद है कि मैं दर्द में था …..
अपनो से मिलने को बेताब था क्युकिं जिन्दगी अभी अधूरी है……..

STOP RAPE

April 14, 2018
Shanky❤Salty

#rape
#बेटी_बचाओ_बेटी_पढ़ाओ
We believe that India is Safe…….

We believe that India is united…..
We believe that girls shall not be wear short dresses and shall only step into the mosques, temples, churches………
But what when the most severe crimes begin to happen in mosques, temples, churches only????
We are suggested that girls shall be in their limits…….
Wearing short dresses arouse the feeling of sex…..
But what when those rapists raped that 3-6-8-12 years old girls?
What had they been seeing in her????

जिन्स पहनने से रेप हुआ
अब हिजाब वालों को भी नहीं छोड़ा
रात को बाहर जाने से रेप हुआ
अब तो घर के अंदर वालों को भी नहीं छोड़ा
लड़के दोस्त होने से रेप हुआ
अब तो नवजातों को भी नहीं छोड़ा
अकेले रहने से रेप हुआ
अब तो शादी-शुदा को भी नहीं छोड़ा
लोगों का कहना है मस्जिद धार्मिक स्थल नहीं है, सिर्फ नमाज पढ़ने कि जगह है। और मंदिर धार्मिक स्थल है, मंदिर का मालिक ईश्वर होता है।
मंदिर जाने से रेप हुआ
अब तो मस्जिदों-मदरसों को भी नहीं छोड़ा
लड़की होने से रेप हुआ
अब तो यौन-शोषण ने लड़कों को भी नहीं छोड़ा

हत्या या आत्महत्या!!!!!

April 2, 2018
Shanky❤Salty

वो फर्श पर बैठी रही
वो इतना अधिक रो रही थी
कि उस दर्द को मिटाने की कोशिश कर रही हो
वो हाथ में ब्लेड के साथ बैठी थी
इतनी धीमी गति से रक्त उसके हाथों से नीचे गिर रहा था
एक गहरे लाल रंग में
जिस तरह से वो महसूस कराना चाहती थी

वो फर्श पर बैठी रही
अपना हाथ पकड़े हुए
वो एक कलम-कागज पकड़ रही थी
रक्त से लाल कगज लिए हुए
कुछ कहने कि कोशिश
दर्द असहनीय है
परंतु एक झूठी मुस्कुराहठ
वह काफी कमजोर लग रही थी

वह मौत कि मंजिल पर बैठी थी
हाथों में ब्लेड पकड़े हुए
पागलों जैसी रो रही थी
मुस्कुरा के दर्द को दूर करने की कोशिश कर रही थी
उसकी पलकें भारी लग रही थी
दरवाजा अभी तक बंद था
फुसफुसाते हुए उसने कहा
माफ करना
सो रही हुं हमेशा के लिए

उठाने कि कोशिश मत करना

मैं जिद्दि हुं

मुझे याद है उसकि खूनी कलाई
और खून से लिपटे वो कागज
मुझे याद है कि वो दर्द में थी……….

क्या कहुं…………

Shanky❤ Salty
March 28, 2018

मेरी हर सांस अमानत है तुम्हारी यादों की

इससे ज्यादा तुमको और चाहूं कैसे

मेरी पलकों पर तुम्हारी यादों का बोझ है

झुक कर उठती नहीं उठ कर झुकती नहीं

There was a girl

March 8, 2018
Shanky❤Salty

For himself
Bigger problem were
Standing up & standing
There was a girl,
Girl was a daughter, daughter was a sister, sister was a girlfriend.
Mother was a wife, wife was a daughter-in-law.
And do not even know what as.
But she was not just she
By making the folds of cloths like that
She shut himself down
Inside the door
Like cleaning the house
She’ll broom my houses

Like a cooker sheet
Answer my silence

Like stolen money that
Mocking she

That the whole house of mine is mine
But her own privacy closed in an angle

Not seen anywhere on the ground

When-when she tired
Find herself…..she found………she have been

Bad daughter, bad sister, bad girlfriend.

Bad wife, bad mother, bad daughter-in-law.
Do not know even know what
What are all doors closed
Who is stoping her
Inwardly
Is her privacy so expensive
That she can not buy
Own freedom
By herself

होली की शुभकामनाएँ

March 2, 2018
Shanky❤Salty
#FacebookFriday
#WorkDiary

“होली के रंगों में एक रंग
प्यार का मिलना दोस्तों
छोटी सी जिन्दगी है ”

हर पल मुस्कुराना आप सभी
रंगों के रंग में रंग जाना
लम्हों के संग चलते जाना
ये रंग ये लम्हें ही सब कुछ है
कोई भी गम हो तो भूल जाना
सबकी खुशियों में खुश होना
खुशियों के रंग इतने भरना
इस पल हर पल जीना इतना
प्यार से भर जाए हर कोना
होली के रंगों में एक रंग
इस बार का मिलना दोस्तों
सबसे मिलकर रंग सा खिलकर

एक रंग अपनेपन का बनाना दोस्तों

“रंगों का त्यौहार है होली

साथ हो अगर कोई हमजोली

एक रंग तू प्यार का भर ले

खिल जाये तेरा भी दामन”

आपकोे और आपके परिवार को होली बहुत बहुत शुभकामनाएँ।।

दोस्ती………

February 7, 2018
Shanky❤Salty

दोस्ती यूं तो बड़ा प्यारा और मासूम रिस्ता है। इसमें किसी स्वार्थ कि कोई जगह नहीं है। लेकिन दोस्ती अगर लड़का-लड़की के बीच हो, तो इसे अलग तौर पे देखा जाता है। दुनिया के लोग इस रिश्ते को अपने नज़रिए, अपने विचारों में मिलाकर पेश करते हैं। मतलब कि नमक-मिर्च लगाकर।

बात काफी पुरानी है पर मेरे दिल में हमेशा घूमती है। सोचा आज लिख दूं ताकि लोगों कि सोच बदल सकें। दरअसल, दोस्ती एक ऐसा रिस्ता है जो हमें जन्म से नहीं मिलता है। हम खुद अपनी इच्छा से इस रिश्ते को चुनते है।

दोस्ती को लेकर जब भी कोई जिक्र करता है तो मुझे मेरे सबसे अच्छे दोस्तों कि याद आ जाती है।

पहले मुझे मस्ती का मतलब पता था पर दोस्ती का मतलब नहीं जनता था। दिल जो कहें वो किसी भी हाल में करना है। पर वक्त ने मुझे धीरे-धीरे दोस्ती का मतलब सीखा ही दिया।

अपने दोस्ती के रिश्ते में मैंने एक बात नोटिस कि है:-

  • जब हम अकेले होते है तो बोर होते रहते है।
  • जब हम दो दोस्त मिलते है तो चुगली होती है।
  • जब हम तीन दोस्त मिलते है तो इधर-उधर कि बातें होती है।
  • जब हम चार दोस्त मिलते है तो 29 या कैल-ब्रेक का सिलसिला शुरू होता है।
  • जब हम पाँच-सात दोस्त मिलते है तो वही पुराणा मिनी-मिलीसिया शुरू होता है।

We have one relation which is ‘Sabka Bap’ is know as “Dosti“.
Why???????

Because

  1. Respect is not a part of this relation:- We always said that ‘Kutte, Kamine, aabey, Chorwaa, Lichhhadd” kahkar bulate hai. It’s very common but you can not use in other relations.
  2. Long distance does not matter:- Most of the time couple will break up with each other just because of long distance. But in “Dosti” it does not matter. For them it is part of life and they can go there at any time and will have meet to their friends.
  3. Wherever you are, with whom, who cares just meet to your friend:- If you are at home, with your life partner you can go and meet to your friend and can stay with him for a long time but for couples they have to tell lie to their parents and all.
  4. Money:- Most important factor is money because if you have this paper then you be in any relation but if you do not have then also you can be in one relation it is none other than it is “Dosti”. Your partner can leave if you do not have money and your parents can force you to earn money but friend can help if you do not have single penny in your pocket. Note:- Make sure that you will return money of your friend, otherwise he will tell “De naa, Bhaai De naaa…….” & irritate you.
  5. Never say “Mn ni h” Or “Uth rhe h na”:– Don’t use this word otherwise he will come to your room remove your blanket and will catch your leg. Then definitely you will be in trouble.

Likhne kya baithaa thaa likhh kyaa diyaa. Sorry yaar next time pakkka.

आज भी याद आती हैं वो

February 5, 2018
Shanky❤Salty

अचानक नज़रें उस पर पड़ीं। बहुत दिनों के बाद जब मैंने उसे देखा देखता ही रह गया। मुझे ऐसा लगा कि मानो वो सिर्फ़ मुझसे मिलने आई हो। मैं तो कल्पना के सरोवर के पास पहुँच ख़्यालों में खो गया।

अमरूद कि एक टहनी

और उसमें से टपककर

सिर पे जाती बारिश कि बूंदें

रूई की फाहों सी दिखती तेज़ बारिश

और वहीं हलका परेशान मैं

बारिश के छीटों से खेलती वो

मुझ पर हसती।

उन भीगे हाथों से मेरे गालों को गिला करती

फिर दूर काले घने बादलों को उड़ता हुआ देख तुम मुझसे कहो

थोड़ी बारिश हो और तुम…………

आओ मत जाओ न

फिर अचानक मेरी नज़रों से दूर हो गई, मुझे लगा मेरी जिंदगी मुझसे दूर जा रही है। बहुत देर तक उसे ईधर-उधर निहारते रहा, लेकिन वो फिर नज़र नहीं आई। उस वक्त मुझे उसके साथ बिताए पल फिर से याद आने लगे। जब मैं उससे पहली बार मिला था।

‘मैंने प्रेम से तुम्हारे गले में बाहें डाला।

तुम्हारे आंखों में आँसू आ गया। क्यों?’

‘इसलिए कि तुम मुझे कितना प्यार करती हो। अरे, अब तुम्हारी आंखें क्यों भर आई?’

सोच रही थी कि कहोगे ‘मैं तुम्हें करता हूं इसलिए।’

उसे देखते ही मुझे पहला प्यार हो गया। किसी ने सच ही कहा है कि सच्चे दिल से किसी को चाहने से वो मिल ही जाती है। मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ वो मुझे मिल गई। फिर अचानक एक दिन मुझसे कहीं दुर चली गई। जब भी कभी पुरानी यादों में आ जाया करती है। तब वो अक्सर आज भी याद आती है।

!!!मेरी जान, मेरे पापा!!!

January 18, 2018

Shanky❤Salty

पूरी दुनिया माँ का गुन-गान गाती है,

माँ की वंदना करती है।

लेकिन मैं आज कुछ अलग बात करता हूँ,

अपने प्यारे पापा कि।।

नवंबर 3, 2013 की बात है, Salty ने मुझसे कहा था “उसके पापा दुनिया के बेस्ट पापा है”

Salty ने तो अपने पापा की तुलना दुनिया से कि है, पर कोई बात नहीं हर किसी का प्यार जताने का अपना तरीका है।

लेकिन मेरे पापा तो एकमात्र है,

मेरी माँ घर का गौरव है, पापा अस्तित्व है घर के।

माँ के पास ममता का आँसू है, पापा के पास संयम का जादू है।

माँ तीनों वक्त का खाना बनाती है, पापा जिन्दगी भर खिलाने का उपाय करते हैं।

फिर भी हम पापा को हमेशा भूल जाते हैं

जब हमें छोटी-मोटी चोट लगती है तो हमारे मुँह से “उईई माँ” निकलती हैं, लेकिन जब बड़ी दुर्घटना से बच जाते हैं तो “बाप रे” निकलता है।।

छोटी-छोटी मुसीबत में माँ है लेकिन बड़ी मुसीबत में पापा की याद आती ही हैं।।

पापा आप एक बरगद के वृक्ष जैसे हो, जिसके नीचे हमारा पूरा परिवार खुशी से रहता है।

अच्छा है पापा आप इस वक्त मेरे सामने नहीं हो, वरना मैं आपको पकड़ कर रो रहा होता और कुछ बोल भी नहीं पाता।।

मैं बहुत खुश नशीब हूँ, क्योंकि Mr. Sharan आप मेरे साथ हो वो भी हर पल।।

बस पापा अब ज्यादा नहीं लिखना हैं

I LOVE YOU PAPA

with

LOTS OF RESPECT

एक उम्मीद है……

December 16, 2017
Shanky❤Salty

एक उम्मीद थी तुम्हें पाने की,

वो भी अब टूट रहा है।

कैसे बताऊँ तुम्हें मेरे दिल पर

क्या बीत रहा है।

कुछ टूट रहा है मेरे अन्दर ही अन्दर,

जैसे उमड़ रहा है कोई दर्द का समन्दर।

वादा जो किया है तुमसे उसे तोड़ भी नहीं सकता,

मैं तो मर भी नहीं सकता

मैं तो जी भी नहीं सकता।

तुमको लगता है जो भी हो रहा है

कारण उसका मैं ही था,

पर कैसे कहूँ तुमसे, वो मैं नहीं मेरी मजबूरी था।

मेरी आँखो के सामने ढह रहा है

मेरी उम्मीदों का महल,

जैसे रेत का बना आशियाना हो कोई।

मैं तो रोक भी नहीं सकता उसको

और समेट भी नहीं सकता।

लोग कहते हैं अकेला हूँ मैं,

मैं तो उनसे अपनी खामोश मोहब्बत के

राज खोल भी नहीं सकता।

कैसे बताऊँ उन्हें तुम मेरी हो,

मैं तो सर-ए-आम तुम्हें अपना बोल भी नहीं सकता।

रात के अंधेरों में तो बहुत रो लेता हूँ मैं,

पर कहीं बदनाम ना हो जाए मोहब्बत हमारी,

सुबह होते ही आँसू पोंछ लेता हूँ मैं।

दिल से तो नहीं निकाल पाएँगे हम एक – दूसरे को,

पर डरता हूँ आने वाली भीड़ भरी जिंदगी में,

हम कहीं इतना तो नहीं खो जाएँगे

कि एक दूसरे का साथ ही नहीं दे पाएँगे।

न जाने क्यूँ कितने ही झंझतों से घिरा रहता है मन,

क्यूँ बना रहता है हर पल एक उलझन।

कहती हो तुम सिर्फ मेरे हो,

जानता हूँ मैं भी

पर सुनता ही नहीं है मेरा ये मन।

हर पल यही है पूछता मुझसे

कि क्यूँ जा रहे हो दूर तुम।

अधिकार तुम पर किसी और का हो रहा है,

दिल इस पर मेरा रो रहा है।

क्या बताऊँ इसको, ये तो कुछ नहीं जानता,

कितना समझाऊँ इसको ये तो कुछ नहीं समझता।

बस जनना है तो सवाल एक ही,

क्या ऐसे जिंदगी चलेगी?

अगर दिला सको तो दिला दो

छुटकारा तुम ही इस सवाल से।

अगर बाँध सको तो बाँध दो इस टूटती उम्मीद को फिर से।

शायद नहीं है संभव बाँध पाना इस उम्मीद को,

फिर कैसे कह दूँ कि ले आऊँगा मैं भी

अपनी आँखों में सुकून की नींद को।

बस अपने दिल का हाल किसी को दिखा नहीं सकता,

जिंदगी चलेगी कब तक, कहाँ तक, बता नहीं सकता।

वक्त को रोकने को जी चाहता हैं।

November 1, 2017
Shanky❤Salty

न जाने क्यों इस दिल में कई दिनों से ये खयाल आता हैं,
वक्त को रोकने को जी चाहता हैं।

जिन बातो को लेकर हँसते थे,
आज उन पर रोना आता है।

और

जिन बातो को लेकर रोते थे,
आज उन पर हंसी आती है।

न जाने क्यों उन पलों की याद बहुत आती है।

कहा करते थे 4 साल है देख लेंगे,
पर आज न जाने क्यों ऐसा लगता है कुछ रह सा गया है।

कहीं-अनकहीं हजारों बाते रह गई है
न भूलने वाली बहुत सी यादे रह गई है।

कौन रात भर जाग कर मस्ती करेगा?
कौन शाम होते चाय-समोसा-पकौड़ी के लिए पूछेगा?

कौन तुम लोगों के नय-नए नाम रखेगा?
अब मैं बिना मतलब के किससे लडूंगा?
बिना टॉपिक के किससे फालतू की बकवास करूँगा?

का भाई……. सुनने को कहाँ मिलेगा?

कौन गलती से नंबर आने पर गलिया सुनाएगा?

पनीरचटपटा-चिकेन किसके साथ खाऊंगा?
वो हंसी के पल किसके साथ जिऊंगा?

एसे दोस्त कहाँ मिलेंगे जो खाई में भी धक्का दे आये,
और फिर हमें बचाने खुद भी कूद जाए।

जाऔ ना आज के बाद कभी फोन नहीं करूँगी,
फिर 5मिनट के बाद फोन करना और चवनिंयाँ मुस्कान देना।

मेरी शैतानीयों से परेसान कौन होगा?
कभी मुझे पढ़ता देख हैरान कौन होगा?

कौल-ब्रेक मैं किसके साथ खेलूँगा?
किसके कंधे पे सिर रख के रोऊँगा?

हौरलिकस वाली स्टोरी याद कर राक्झस की तरह कौन हसेंगा?
मीनी-मीलिसिया में हरने वाली ट्रीट, इस चक्कर में अब कौन फसेंगा?

मेरी कुकिंग-फिवर गेम को रद्दी कहने की हिम्मत कौन करेगा?
बिना डरे सच्ची राए देने की हिम्मत कौन करेगा?

7मिनट में आई.सी.यू. तक कौन पहुँचाएगा?
जूनियर का इन्ट्रों लेने कौन चलेगा?

अस्पताल से छुट्टी के बाद मुझे सीढ़ियों कौन चढ़ाएगा?
अपनी फिलींगस किसके साथ शेयर करूँगा?

अचानक पूरानी बातों को याद कर पागलों की तरह हँसना,
न जाने यह फिर कब कर पाउँगा?

जब चल नहीं पाता था, तब तुम सब मुझसे चल कर मिलने आया करते थे।
जब बोल नहीं पाता था, तब तुम सब मुझसे बातें करने आया करते थे।

दोस्तों के लिए प्रोफेसर से कब लड़ पाएँगे?
क्या ये दिन फिर से आ पाएँगे?

मोटु-पतलू कि जोडी़ कमाल कि होती,
अगर तूम पहले मिल गए होते।

रात को 2 बजे मैगी और सत्तु का सरबत कौन बनायेगा?
मूझे आइस्क्रीम और डोसा कौन खिलाएगा?

कौन मेरी शैतानियौं पर रोक लगाएगा?
और ज्यादा उड़ने पर मीटिंग लगाएगा?

खुद गवारों वाली हरकतें करती हो, और
मुझे गवार बोलने वाली बेस्टी कहाँ मिलेगी?

मेरी ख़ुशी में सच में खुश कौन होगा?
मेरे गम में मुझसे ज्यादा दुखी कौन होगा?

मेरी यह लव-लेटर कौन पढ़ेगा?
कौन इसे सच में समझेगा?

बहुत कुछ लिखना अभी बाकी है,
सायद 6महीन बाकि हैं।

हम बे मतलब की बातों को लेकर दुश्मन न बन जाए दोस्तों,
हम अजनबी न बन जाए दोस्तों।

जिंदगी के रंगों में दोस्ती का रंग फीका न पढ़ जाए,
कही ऐसा न हो दूसरे रिस्तों के भीड़ में दोस्ती दम तोड़ न जाए।

जिंदगी में मिलने की फरियाद करते रहना,
अगर न मिल सके तो कम से कम हर सुबह गुड मॉर्निंग करते रहना।

चाहे जितना हस लो आज मुझ पर में बुरा नहीं मानूंगा,
इस हसी को अपने दिल में बसा लूँगा।

और जब याद आएगी तुम्हारी,
यही हसी लेकर थोडा आखों में आँसू और चेहरे पे मुस्कान लाऊँगा।

सुना हैं दुआ में बहुत ताकत होती है,
दोस्तों दुआ करना, मेरी हर दुआ कबूल हो।

ईश्वर से यही दुआ है,
मेरे दोस्तों के चेहरे पे हर पल मुस्कान बनी रहें।

Shanky सिर्फ Salty का नहीं हैं,
अपने प्यारे दोस्तों का भी हैं।

ई लव यू मेरा प्यारा चैसठ, छोटका-सांसद, मैनेजर, दुश्मन, मंझिलका, खजांची, बंकर, ढोकला, प्रैफ, कुंतिया, बेस्टी, सत्यम भईया, डिजे, नैंटी, रवी सर, मोटु, चुरैल, यो ब्रो, प्रधान, गैतम, दयानंद जी, पप्पु, डीजी भाई, मोहित, सुरभ।

दिल से थैंक्स है उन सभी दोस्तों को, जिनकी वजह से आज मैं हूं और जिनकी वजह से यह जिन्दगीं इतनी खुशनुमा बन गईं हैं।

Happy Deepawali….!!!!

October 19, 2017
Shanky❤Salty

दीपों की फिर एकता

देखो लाई रंग

अंधकार मारा फिरे

दीपक जीते जंग

ज्योति-पर्व ने दोस्तो

रखे इस तरह पाँव

झिलमिल-झिलमिल कर उठे

गली-मुहल्ले-गांव

ज्योति-पर्व वंदन करें

शत-शत करे प्रणाम

अंधियरों की साजिशें

तुमने कि नाक़ाम

अंधकार की एक भी

साजिश चली न आज

झिलमिल दीपक जल रहे

सच के सर पर ताज

राम तुम्हारी वापसी को

तरसें ये नैन

गली-गली रावण उगे हैं

जन-जन बेचैन

ज्योति-पर्व पर दोस्तो लें

संकल्प विशेष

जैसे अंधियारा मिटा

मिटे ह्रदय से द्वेष

जीवन की संभावना

कभी ना हो अवरुद्ध

एक दीप करता सदा

अंधकार से युद्ध

Something Something…….

Only for u dear

October 10, 2017
Shanky❤Salty

When Eyes Meet….

Hearts Beat…….

It Is Something Something

When Smiles Meet….

Hearts Beat……….

It Is Something Something

&

We Are Desperately Waiting

To Here The………

Something Something’

One More Time….

Please Come Back……..

Together With A Bang Lots of love and good wishes from the bottom of my heart

Terii Yaado Ka Rishta Kutch Aisa h…….

September 21, 2017

Shanky❤Salty

Teri Yaad Se Rishta Kl Bhi Tha,

Teri Yaad Se Rishta Aaj Bhi Hai,

Dil Apna Dukhta Kl Bhi Tha,

Dil Ye Udaas Aaj Bhi Hai,

Jo Pyaar Hm Tm Karte The,

Wo Pyaar To Zinda Aaj Bhi Hai,

Hm Bichad Gaye Is Doori Mein,

Tm Door Ho Majburi Mein,

Kabhi Waqt Mile To Chali Aana,

Khula Dil Ka Darwaza Aaj Bhi Hai,

Na Sataao……

Na Tadpaao….

Na Mehfil Mein u Tanha Chhor do,

Teri Yaad Me Jaage Kl Bhi The,

Teri Yaad Me Jaage Aaj Bhi Hai !

I Love U Salty

More Than Words Can Say

Pyari Salty

September 15, 2017

Shanky❤Salty

Suno Tm Maan Jao Na Hame Ab u Satao Na

Tmhare Bin Hame Jena Gawara Ab Ni Hota,

Tumhe Kaise Kahun Tm Bin Guzara Ab Ni Hota,

Hame Apna Bana Lo Tm Tmhara Ban Ke Rehna Hai,

Mujhe Dukh Hajar Ka Janam Nahi Ab Or Sehna Hai,

Kaee Sapnay Sajaey Hain Ab In Me Rang Bhar Do Na,

Tmhe Meri Kasam Janaa Tm Mere Sang Chal Do Na,

Mujhe Ab Aur Rulao Na Suno Tm Maan Jao Na…!

जबसे आपकी-हमारी मुलाकात हो गयी

September 2, 2017

Shanky❤Salty

जबसे आपकी-हमारी मुलाकात हो गयी☺

सारे कहते हैं कि करामात हो गयी☺

जबसे आपकी-हमारी मुलाकात हो गयी☺

मोहबत में आपके झूम-झूम गाये हम☺

आपने क्या किया है कैसे दुनिया को बताये हम

खुशियों की तो जैसे बरसात सी हो गयी☺

सारे कहते है कि करामात हो गयी☺

एक वो ज़माना था, ठौर न ठिकाना था☺

देखते ही, हमसे आँखें फेरता ज़माना था☺

किस्मत बुलंद, हमारी रातों रात हो गयी☺

सारे कहते हैं कि करामात हो गयी☺

हमको दिया जो आपने कभी ना भुला पायेंगे

ज़िन्दगी ये सारी आपकी यादों में बितायेंगे☺

आँखों ही आँखों में अपनी बात हो गयी☺

सारे कहते है कि करामात हो गयी☺

जबसे आपकी हमारी मुलाकात हो गयी☺

सारे कहते हैं कि करामात हो गयी☺

भारत ने ही पूरी दुनिया को प्लास्टिक सर्जरी करनी सिखाई है

August 28, 2017

Shanky❤Salty

प्लास्टिक सर्जरी (Plastic Surgery) जो आज की सर्जरी की दुनिया मे आधुनिकतम विद्या है इसका अविष्कार भारत में हुआ था| सर्जरी का अविष्कार तो हुआ ही है प्लास्टिक सर्जरी का अविष्कार भी यहाँ ही हुआ है| प्लास्टिक सर्जरी मे कहीं की त्वचा को काट के कहीं लगा देना और उसको इस तरह से लगा देना की पता हि न चले, यह विद्या सबसे पहले दुनिया को भारत ने दी है|

1780 मे दक्षिण भारत के कर्णाटक राज्य के एक बड़े भू भाग का राजा था जिसका नाम हयदर अली था | 1780-84 के बीच मे अंग्रेजों ने हयदर अली के ऊपर कई बार हमले किये और एक हमले का जिक्र एक अंग्रेज की डायरी मे से मिला है| एक अंग्रेज का नाम था कोर्नेल कूट उसने हयदर अली पर हमला किया पर युद्ध मे अंग्रेज परास्त हो गए और हयदर अली ने कोर्नेल कूट की नाक काट दी|

कोर्नेल कूट अपनी डायरी मे लिखता है के “मैं पराजित हो गया, सैनिको ने मुझे बन्दीबना लिया, फिर मुझे हयदर अली के पास ले गए और उन्होंने मेरा नाक काट दिया|” फिर कोर्नेल कूट लिखता है के “मुझे घोडा दे दिया भागने के लिए नाक काट के हाथ मे दे दिया और कहा के भाग जाओ तो मैं घोड़े पे बैठ के भागा| भागते भागते मैं बेलगाँव मे आ गया, बेलगाँव मे एक वैद्या ने मुझे देखा और पूछा मेरी नाक कहाँ कट गयी? तो मैं झूटबोला के किसी ने पत्थर मार दिया, तो वैद्यने बोला के यह पत्थर मारी हुई नाक नही है यह तलवार से काटी हुई नाक है, मैं वैद्य हूँ मैं जानता हूँ| तो मैंने वैद्य से सच बोला के मेरी नाक काटी गयी है| वैद्य ने पूछा किसने काटी? मैंने बोला तुम्हारी राजा ने काटी| वैद्य ने पूछा क्यों काटी तो मैंने बोला के उनपर हमला किया इसलिए काटी|फिर वैद्य बोला के तुम यह काटी हुई नाक लेके क्या करोगे? इंग्लैंड जाओगे? तो मैंने बोला इच्छा तो नही है फिर भी जाना हि पड़ेगा|”

यह सब सुनके वो दयालु वैद्य कहता है के मैं तुम्हारी नाक जोड़ सकता हूँ, कोर्नेल कूट को पहले विस्वास नही हुआ, फिर बोला ठेक है जोड़ दो तो वैद्य बोला तुम मेरे घर चलो| फिर वैद्य ने कोर्नेल को ले गया और उसका ऑपरेशन किया और इस ऑपरेशन का तिस पन्ने मे वर्णन है| ऑपरेशन सफलता पूर्वक संपन्न हो गया नाक उसकी जुड़ गयी, वैद्य जी ने उसको एक लेप दे दिया बना के और कहा की यह लेप ले जाओ और रोज सुबह शाम लगाते रहना| वो लेप लेके चला गया और 15-17 दिन के बाद बिलकुल नाक उसकी जुड़ गयी और वो जहाज मे बैठ कर लन्दन चला गया|

फिर तिन महीने बाद ब्रिटिश पार्लियामेन्ट मे खड़ा हो कोर्नेल कूट भाषण दे रहा है और सबसे पहला सवाल पूछता है सबसे के आपको लगता है के मेरी नाक कटी हुई है? तो सब अंग्रेज हैरान हो कहते है अरे नही नही तुम्हारी नाक तो कटी हुई बिलकुल नही दिखती| फिर वो कहानी सुना रहा है ब्रिटिश पार्लियामेन्ट मे के मैंने हयदर अली पे हमला किया था मैं उसमे हार गया उसने मेरी नाक काटी फिर भारत के एक वैद्य ने मेरी नाक जोड़ी और भारत की वैद्यों के पास इतनी बड़ी हुनर है इतना बड़ा ज्ञान है की वो काटी हुई नाक को जोड़ सकते है|

फिर उस वैद्य जी की खोंज खबर ब्रिटिश पार्लियामेन्ट मे ली गयी, फिर अंग्रेजो का एक दल आया और बेलगाँव की उस वैद्य को मिला, तो उस वैद्य ने अंग्रेजो को बताया के यह काम तो भारत के लगभग हर गाँव मे होता है; मैं एकला नहीं हूँ ऐसा करने वाले हजारो लाखों लोग है| तो अंग्रेजों को हैरानी हुई के कोन सिखाता है आपको ? तो वैद्य जी कहने लगे के हमारे इसके गुरुकुल चलते है और गुरुकुलों मे सिखाया जाता है|

फिर अंग्रेजो ने उस गुरुकुलों मे गए उहाँ उन्होंने एडमिशन लिया, विद्यार्थी के रूप मे भारती हुए और सिखा, फिर सिखने के बाद इंग्लॅण्ड मे जाके उन्होंने प्लास्टिक सर्जरी शुरू की| और जिन जिन अंग्रेजों ने भारत से प्लास्टिक सर्जरी सीखी है उनकी डायरियां हैं| एक अंग्रेज अपने डायरी मे लिखता है के ‘जब मैंने पहली बार प्लास्टिक सर्जरी सीखी, जिस गुरु से सीखी वो भारत का विशेष आदमी था और वो नाइ था जाती का| मने जाती का नाइ, जाती का चर्मकार या कोई और हमारे यहाँ ज्ञान और हुनर के बड़े पंडित थे| नाइ है, चर्मकार है इस आधार पर किसी गुरुकुल मे उनका प्रवेश वर्जित नही था, जाती के आधार पर हमारे गुरुकुलों मे प्रवेश नही हुआ है, और जाती के आधार पर हमारे यहाँ शिक्षा की भी व्यवस्था नही था|वर्ण व्यवस्था के आधार पर हमारे यहाँ सबकुछ चलता रहा| तो नाइ भी सर्जन है चर्मकार भी सर्जन है| और वो अंग्रेज लिखता है के चर्मकार जादा अच्चा सर्जन इसलिए हो सकता है की उसको चमड़ा सिलना सबसे अच्छे तरीके से आता है|

एक अंग्रेज लिख रहा है के ‘मैंने जिस गुरु से सर्जरी सीखी वो जात का नाइ था और सिखाने के बाद उन्होंने मुझसे एक ऑपरेशन करवाया और उस ऑपरेशन की वर्णन है| 1792 की बात है एक मराठा सैनिक की दोनों हात युद्ध मे कट गए है और वो उस वैद्य गुरु के पास कटे हुए हात लेके आया है जोड़ने के लिए| तो गुरु ने वो ऑपरेशन उस अंग्रेज से करवाया जो सिख रहा था, और वो ऑपरेशन उस अंग्रेज ने गुरु के साथ मिलके बहुत सफलता के साथ पूरा किया| और वो अंग्रेज जिसका नाम डॉ थॉमस क्रूसो था अपनी डायरी मे कह रहा है के “मैंने मेरे जीवन मे इतना बड़ा ज्ञान किसी गुरु से सिखा और इस गुरु ने मुझसे एक पैसा नही लिया यह मैं बिलकुल अचम्भा मानता हूँ आश्चर्य मानता हूँ|” और थॉमस क्रूसो यह सिख के गया है और फिर उसने प्लास्टिक सेर्जेरी का स्कूल खोला, और उस स्कूल मे फिर अंग्रेज सीखे है, और दुनिया मे फैलाया है| दुर्भाग्य इस बात का है के सारी दुनिया मे प्लास्टिक सेर्जेरी का उस स्कूल का तो वर्णन है लेकिन इन वैद्यो का वर्णन अभी तक नही आया विश्व ग्रन्थ मे जिन्होंने अंग्रेजो को प्लास्टिक सेर्जेरी सिखाई थी|

भारत में अँग्रेजी भाषा के लिए दिये जाने वाले झूठे कुतर्को का सत्य

August 27, 2017

Shanky❤Salty

1) English अंतराष्ट्रीय भाषा है ??

2) English विज्ञान और तकनीकी की भाषा है??

3) English जाने बिना देश का विकास नहीं हो सकता ??

4) English बहुत समृद्ध भाषा है !

पहले आप एक खास बात जाने !

कुल 70 देश है पूरी दुनिया मे जो भारत से पहले और भारत से बाद आजाद हुए हैं भारत को छोड़ कर उन सब मे एक बार सामान्य हैं कि आजाद होते ही उन्होने अपनी मातृ भाषा को अपनी राष्ट्रीय भाषा घोषित कर दिया ! लेकिन शर्म की बात है भारत आजादी के 71 साल बाद भी नहीं कर पाया आज भी भारत मे सरकारी सतर की भाषा अँग्रेजी है !

अँग्रेजी के पक्ष में तर्क और उसकी सच्चाई :

1) अंग्रेजी अंतर्राष्ट्रीय भाषा है: दुनिया में इस समय 204 देश हैं और मात्र 12 देशों में अँग्रेजी बोली, पढ़ी और समझी जाती है। संयुक्त राष्ट संघ जो अमेरिका में है वहां की भाषा अंग्रेजी नहीं है, वहां का सारा काम फ्रेंच में होता है। इन अंग्रेजों की जो बाइबिल है वो भी अंग्रेजी में नहीं थी और ईशा मसीह अंग्रेजी नहीं बोलते थे। ईशा मसीह की भाषा और बाइबिल की भाषा अरमेक थी। अरमेक भाषा की लिपि जो थी वो हमारे बंगला भाषा से मिलती जुलती थी, समय के कालचक्र में वो भाषा विलुप्त हो गयी। पूरी दुनिया में जनसंख्या के हिसाब से सिर्फ 3% लोग अँग्रेजी बोलते हैं। इस हिसाब से तो अंतर्राष्ट्रीय भाषा चाइनिज हो सकती है क्यूंकी ये दुनिया में सबसे ज्यादा लोगों द्वारा बोली जाती है और दूसरे नंबर पर हिन्दी हो सकती है।

2) अँग्रेजी बहुत समृद्ध भाषा है: किसी भी भाषा की समृद्धि इस बात से तय होती है की उसमें कितने शब्द हैं और अँग्रेजी में सिर्फ 12,000 मूल शब्द हैं बाकी अँग्रेजी के सारे शब्द चोरी के हैं या तो लैटिन के, या तो फ्रेंच के, या तो ग्रीक के, या तो दक्षिण पूर्व एशिया के कुछ देशों की भाषाओं के हैं। आपने भी काफी बार किसी अँग्रेजी शब्द के बारे मे पढ़ा होगा ! ये शब्द यूनानी भाषा से लिया गया है ! ऐसी ही बाकी शब्द है !

उदाहरण: अँग्रेजी में चाचा, मामा, फूफा, ताऊ सब UNCLE चाची, ताई, मामी, बुआ सब AUNTY क्यूंकी अँग्रेजी भाषा में शब्द ही नहीं है। 😝😝😝जबकि गुजराती में अकेले 40,000 मूल शब्द हैं। मराठी में 48000+ मूल शब्द हैं जबकि हिन्दी में 70000+ मूलशब्द हैं। कैसे माना जाए अँग्रेजी बहुत समृद्ध भाषा है ?? अँग्रेजी सबसे लाचार/पंगु/ रद्दी भाषा है क्योंकि इस भाषा के नियम कभी एक से नहीं होते। दुनिया में सबसे अच्छी भाषा वो मानी जाती है जिसके नियम हमेशा एक जैसे हों, जैसे: संस्कृत। अमेरिका संस्कृत को NASA की भाषा बनाने मे जुटा । अँग्रेजी में आज से 200 साल पहले This की स्पेलिंग Tis होती थी।

अँग्रेजी में 250 साल पहले Nice मतलब बेवकूफ होता था और आज Nice मतलब अच्छा होता है। अँग्रेजी भाषा में Pronunciation कभी एक सा नहीं होता। Today को ऑस्ट्रेलिया में Todie बोला जाता है जबकि ब्रिटेन में Today. अमेरिका और ब्रिटेन में इसी बात का झगड़ा है क्योंकि अमेरीकन अँग्रेजी में Z का ज्यादा प्रयोग करते हैं और ब्रिटिश अँग्रेजी में S का, क्यूंकी कोई नियम ही नहीं है और इसीलिए दोनों ने अपनी अपनी अलग अलग अँग्रेजी मान ली।

3) अँग्रेजी नहीं होगी तो विज्ञान और तकनीक की पढ़ाई नहीं हो सकती: दुनिया में 2 देश इसका उदाहरण हैं की बिना अँग्रेजी के भी विज्ञान और तकनीक की पढ़ाई होती है- जापान और फ़्रांस । पूरे जापान में इंन्जीन्यरिंग, मेडिकल के जीतने भी कॉलेज और विश्वविद्यालय हैं सब में पढ़ाई “JAPANESE” में होती है, इसी तरह फ़्रांस में बचपन से लेकर उच्चशिक्षा तक सब फ्रेंच में पढ़ाया जाता है। हमसे छोटे छोटे, हमारे शहरों जितने देशों में हर साल नोबल विजेता पैदा होते हैं लेकिन इतने बड़े भारत में नहीं क्यूंकी हम विदेशी भाषा में काम करते हैं और विदेशी भाषा में कोई भी मौलिक काम नहीं किया जा सकता सिर्फ रटा जा सकता है। ये अँग्रेजी का ही परिणाम है की हमारे देश में नोबल पुरस्कार विजेता पैदा नहीं होते हैं क्यूंकी नोबल पुरस्कार के लिए मौलिक काम करना पड़ता है और कोई भी मौलिक काम कभी भी विदेशी भाषा में नहीं किया जा सकता है। नोबल पुरस्कार के लिए P.hd, B.Tech, M.Tech की जरूरत नहीं होती है।

उदाहरण: न्यूटन कक्षा 9 में फ़ेल हो गया था, आइंस्टीन कक्षा 10 के आगे पढे ही नही और E=hv बताने वाला मैक्स प्लांक कभी स्कूल गया ही नहीं। ऐसी ही शेक्सपियर, तुलसीदास, महर्षि वेदव्यास आदि के पास कोई डिग्री नहीं थी, इन्होने सिर्फ अपनी मात्र भाषा में काम किया।

जब हम हमारे बच्चों को अँग्रेजी माध्यम से हटकर अपनी मात्र भाषा में पढ़ाना शुरू करेंगे तो इस अंग्रेज़ियत से हमारा रिश्ता टूटेगा।

क्या आप जानते हैं जापान ने इतनी जल्दी इतनी तरक्की कैसे कर ली ? क्यूंकी जापान के लोगों में अपनी मात्र भाषा से जितना प्यार है उतना ही अपने देश से प्यार है। जापान के बच्चों में बचपन से कूट- कूट कर राष्ट्रीयता की भावना भरी जाती है।

जो लोग अपनी मात्र भाषा से प्यार नहीं करते वो अपने देश से प्यार नहीं करते सिर्फ झूठा दिखावा करते हैं।

दुनिया भर के वैज्ञानिकों का मानना है की दुनिया में कम्प्युटर के लिए सबसे अच्छी भाषा ‘संस्कृत’ है। सबसे ज्यादा संस्कृत पर शोध इस समय जर्मनी और अमेरिका चल रही है। नासा ने ‘मिशन संस्कृत’ शुरू किया है और अमेरिका में बच्चों के पाठ्यक्रम में संस्कृत को शामिल किया गया है। सोचिए अगर अँग्रेजी अच्छी भाषा होती तो ये अँग्रेजी को क्यूँ छोड़ते और हम अंग्रेज़ियत की गुलामी में घुसे हुए है। कोई भी बड़े से बड़ा तीस मार खाँ अँग्रेजी बोलते समय सबसे पहले उसको अपनी मात्र भाषा में सोचता है और फिर उसको दिमाग में Translate करता है फिर दोगुनी मेहनत करके अँग्रेजी बोलता है। हर व्यक्ति अपने जीवन के अत्यंत निजी क्षणों में मात्र भाषा ही बोलता है।

जैसे: जब कोई बहुत गुस्सा होता है तो गाली हमेशा मात्र भाषा में ही देता हैं।😝😝😝

॥ मात्रभाषा पर गर्व करो…..अँग्रेजी की गुलामी छोड़ो॥

Aankhe Nam h tere bina sanam…..

Ananya Chowdhary 30 November 11:05

Aankhe Nam h tere bina sanam-2
dil v h udaas sa tere binaaaaa tere bina..
aaaa v jao aaaa v jaoo. ooo sanam
AAA k gale se laga lo sanam…ooo mere humdum
jindagi ye adhuri lagti h tere bina oo tere bina…
be raat bhar Tera me deedar krun ye chandni rate mujhse keh rhi h…
tu bs soya rhe Mai you dekhti rhu
tujhkoooooo mere hamsafar
tu mujhse door na Jana be you pas pas rehna mere dip me rehna…
mujhe tmse mohabbat h tumhe mujhse mohabbat h…
do jism ek jaan h Hm ooo mete janeman….Untitled

Thank You Salty………………………………I Love You & Miss You Salty

अमेरिका संस्कृत को NASA की भाषा बनाने मे जुटा ।

May 25, 2017

Shanky❤Salty



देवभाषा संस्कृत की गूंज कुछ साल बाद अंतरिक्ष में सुनाई दे सकती है। इसके वैज्ञानिक पहलू का मुरीद हुआ अमेरिका नासा की भाषा बनाने की कसरत में जुटा है। इस प्रोजेक्ट पर भारतीय संस्कृत विद्वानों के इन्कार के बाद अमेरिका अपनी नई पीढ़ी को इस भाषा में पारंगत करने में जुट गया है।

गत दिनों आगरा दौरे पर आए अरविंद फाउंडेशन [इंडियन कल्चर] पांडिचेरी के निदेशक संपदानंद मिश्रा ने ‘जागरण’ से बातचीत में यह रहस्योद्घाटन किया। उन्होंने बताया कि नासा के वैज्ञानिक रिकब्रिग्स ने 1985 में भारत से संस्कृत के एक हजार प्रकांड विद्वानों को बुलाया था। उन्हें नासा में नौकरी का प्रस्ताव दिया था। उन्होंने बताया कि संस्कृत ऐसी प्राकृतिक भाषा है, जिसमें सूत्र के रूप में कंप्यूटर के जरिए कोई भी संदेश कम से कम शब्दों में भेजा जा सकता है। विदेशी उपयोग में अपनी भाषा की मदद देने से उन विद्वानों ने इन्कार कर दिया था।
इसके बाद कई अन्य वैज्ञानिक पहलू समझते हुए अमेरिका ने वहां नर्सरी क्लास से ही बच्चों को संस्कृत की शिक्षा शुरू कर दी है। नासा के ‘मिशन संस्कृत’ की पुष्टि उसकी वेबसाइट भी करती है। उसमें स्पष्ट लिखा है कि 20 साल से नासा संस्कृत पर काफी पैसा और मेहनत कर चुकी है। साथ ही इसके कंप्यूटर प्रयोग के लिए सर्वश्रेष्ठभाषा का भी उल्लेख है।
स्पीच थैरेपी : वैज्ञानिकों का मानना है कि संस्कृत पढ़ने से गणित और विज्ञान की शिक्षा में आसानी होती है, क्योंकि इसके पढ़ने से मन में एकाग्रता आती है। वर्णमाला भी वैज्ञानिक है। इसके उच्चारण मात्र से ही गले का स्वर स्पष्ट होता है। रचनात्मक और कल्पना शक्ति को बढ़ावा मिलता है। स्मरण शक्ति के लिए भी संस्कृत काफी कारगर है। मिश्रा ने बताया कि कॉल सेंटर में कार्य करने वाले युवक-युवती भी संस्कृत का उच्चारण करके अपनी वाणी को शुद्ध कर रहे हैं। न्यूज रीडर, फिल्म और थिएटर के आर्टिस्ट के लिए यह एक उपचार साबित हो रहा है। अमेरिका में संस्कृत को स्पीच थेरेपी के रूप में स्वीकृति मिल चुकी है।

Source:-“Jagran”

मंदिर जाने का वैज्ञानिक महत्वव, हमारी संस्कृति मे हर कार्य के पीछे कोई ठोस आधार है ।

May 21, 2017
Shanky❤Salty

मंदिर क्यों जायें ?

मंदिर और उसमें स्थापित भगवान की मूर्ति हमारे लिए आस्था के केंद्र हैं। मंदिर हमारे धर्म का प्रतिनिधित्व करते हैं और हमारे भीतर आस्था जगाते हैं। किसी भी मंदिर को देखते ही हम श्रद्धा के साथ सिर झुकाकर भगवान के प्रति नतमस्तक हो जाते हैं। आमतौर पर हम मंदिर भगवान के दर्शन और इच्छाओं की पूर्ति के लिए जाते हैं लेकिन मंदिर जाने के और भी कई लाभ हैं। 

मंदिर वह स्थान है जहां जाकर मन को शांति का अनुभव होता है। वहां हम अपने भीतर नई शक्ति का अहसास करते हैं। हमारा मन-मस्तिष्क प्रफुल्लित हो जाता है। शरीर उत्साह और उमंग से भर जाता है। मंत्रों के स्वर, घंटे-घडिय़ाल, शंख और नगाड़े की ध्वनियां आत्मा की भूख मिटती है।

मंदिरों का निर्माण पूर्ण वैज्ञानिक विधि है। मंदिर का वास्तुशिल्प ऐसा बनाया जाता है, जिससे वहां शांति और दिव्यता उत्पन्न होती है। मंदिर की वह छत जिसके नीचे मूर्ति की स्थापना की जाती है। ध्वनि सिद्धांत को ध्यान में रखकर बनाई जाती है, जिसे गुंबद कहा जाता है। गुंबद के शिखर के केंद्र बिंदु के ठीक नीचे मूर्ति स्थापित होती है। गुंबद तथा मूर्ति का मध्य केंद्र एक रखा जाता है। गुंबद के कारण मंदिर में किए जाने वाले मंत्रोच्चारण के स्वर और अन्य ध्वनियां गूंजती है तथा वहां उपस्थित व्यक्ति को प्रभावित करती है। गुंबद और मूर्ति का मध्य केंद्र एक ही होने से मूर्ति में निरंतर ऊर्जा प्रवाहित होती है। जब हम उस मूर्ति को स्पर्श करते हैं, उसके आगे सिर टिकाते हैं, तो हमारे अंदर भी ऊर्जा प्रवाहित हो जाती है। इस ऊर्जा से हमारे अंदर जीवनी शक्ति का संचार करती है।

मंदिर की पवित्रता हमें प्रभावित करती है। हमें अपने अंदर और बाहर इसी तरह की शुद्धता रखने की प्रेरणा मिलती है। मंदिर में बजने वाले शंख और घंटों की ध्वनियां वहां के वातावरण में कीटाणुओं को नष्ट करते रहती हैं। मंदिर में स्थापित देव प्रतिमा में हमारी आस्था और विश्वास होता है। मूर्ति के सामने बैठने से हम एकाग्र होते हैं। यही एकाग्रता धीरे-धीरे हमें भगवान के साथ एकाकार करती है, तब हम अपने अंदर ईश्वर की उपस्थिति को महसूस करने लगते हैं। हमारे मस्तिष्क में सभी समस्याओं का समाधान पहले से होता है एकाग्र होकर चिंतन-मनन से हमें अपनी समस्याओं का समाधान जल्दी मिल जाता है।

मंदिर में परिक्रमा भी की जाती है, जिसमें पैदल चलना होता है। मंदिर परिसर में हम नंगे पैर पैदल ही घूमते हैं। यह भी एक व्यायाम है। नए शोध में साबित हुआ है नंगे पैर मंदिर जाने से पगतलों में एक्यूपे्रशर होता है। इससे पगतलों में शरीर के कई भीतरी संवेदनशील बिंदुओं पर अनुकूल दबाव पड़ता है जो स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है।
इस तरह हम देखते हैं कि मंदिर जाने से हमे बहुत लाभ है। मंदिर को वैज्ञानिक शाला के रूप में विकसित करने के पीछे हमारे पूर्वज ऋषि-मुनियों का यही लक्ष्य था कि सुबह जब हम अपने काम पर जाएं उससे पहले मंदिर से ऊर्जा लेकर जाएं, ताकि अपने कर्तव्यों का पालन सफलता के साथ कर सकें और जब शाम को थककर वापस आएं तो नई ऊर्जा प्राप्त करें। इसलिए दिन में कम से कम एक या दो बार मंदिर अवश्य जाना चाहिए। इससे हमारी आध्यात्मिक उन्नति तो होती है, साथ ही हमें निरंतर ऊर्जा मिलती है और शरीर स्वस्थ रहता है।
(source:- Google)

आखिर मुसलमान ही सबसे अधिकभिखारी क्यों होते हैं ? क्या है वास्तविक कारण ?

May 15, 2017

Shanky❤Salty

2011 की जनगणना के आंकड़ों के अनुसार देश में भिखारियों की संख्या 3 लाख 70 हजार है। (According to Census of India) जबकि उसमें मुसलमान भिखारी 92,760 हैं। वैसे इस तरह के लोग सभी धर्मों और जातियों में पाए जाते हैं लेकिन भारत की कुल जनसंख्या में मुसलमान 15 प्रतिशत हैं अर्थात देश में मुस्लिमों की कुल जनसंख्या 18 करोड़ है लेकिन देश के भिखारियों की कुल आबादी में इनकीसंख्या 25 प्रतिशत से अधिक है| भारत का हर चौथा भिखारी मुसलमान है| 

मुस्लिम भिखारियों में पुरुषों की तुलना में महिलाओं की संख्या ज्यादा है जबकि मुसलमान दावा करते हैं कि इन्होने 800 साल भारत पर शासन किया फिर भी भिखारी के भिखारी रह गये | अब यहां प्रश्न यह है कि क्या ये लोग मुसलमान होने के कारण भिखारी हैं या इसका कोई और कारण है | मुझे यह समझ में आता है कि पांच-सात सौ साल पहले जब वे हिंदू थे, तब भी वे प्रायः गरीब थे, मजदूर थे, वे मुश्किल से गुजर-बसर करते थे । तत्कालीन मुगल शासकों के भय या प्रलोभन से इनके मुसलमान बनने पर भी उनकी हालत वही रही | शिक्षा का अभाव व अधिक सन्तान पैदा करने के चक्कर में इनके हालत और भी बदतर हो गये हैं ।

आज भी भारत में 42.72 प्रतिशत से अधिक मुसलमान अनपढ़ हैं और जो मुसलमान संपन्न हैं, सुशिक्षित हैं और शक्तिशाली हैं, उनका वर्ग अलग बन गया है। वे इन विपन्न, अशिक्षित और कमजोर मुसलमानों से रोटी-बेटी का रिश्ता नहीं रखना चाहते । यह वर्ग-भेद अब मुस्लिम देशों में भी फैलता जा रहा है और मुस्लिम नेता राजनीति में अपना करियर बना रहे हैं| आज हिन्दुस्तान के मुसलमान भिखारी हिंदुओं की दया, रहमो-करम पर जिंदा हैं। मुस्लिम समाज के ठेकेदार इनके लिये कुछ नहीं करते हैं |
बल्कि यह ठेकेदार कहते हैं कि भारत में मुस्लिम अल्पसंख्यक हैं. ऐसे में सरकार पर मुस्लिम समाज को नजरंदाज करने के आरोप भी लगाए जाते हैं और उनकी बदहाली के लिए सरकार को जिम्मेदार भी ठहराते हैं. लेकिन मैं बताना चाहता हूँ कि मुस्लिम समाज के उत्थान के लिए 7,730 समाज सेवी संस्थायें कार्य कर रही हैं |(source: google.com) जिनके द्वारा अगर सही दिशा में काम किया जाए तो मुस्लिम भिखारियों की संख्या कुछ अरसे में कम की जा सकती है. देश में 4 लाख भिखारी हैं, सरकार को इनके लिये एक अलग शहर ही बसा देना चाहिये |

भीख मांगने वाले इन लोगों में से बहुत से विकलांग होंगे तो बहुत से ऐसे भी जो हाथ-पैरों से ठीक होंगे. विकलांग लोगों को उनके हिसाब से वोकेशनल ट्रेनिंग दी जा सकती है| जो पढ़े लिखे नहीं हैं उन्हें कोई दूसरा व्यावसायिक काम सिखाया जा सकता है जिससे वो कमाकर खाने के लिए प्रेरित हों| जो पढ़े लिखे हैं उनको उनकी शिक्षा के मुताबिक काम मुहैया करवाया जाए, और जो कुछ नहीं कर सकते उनके लिए ऐसे संस्थाएं भी हैं जो आजीवन उनका ध्यान रख सकती हैं|
देखा जाए तो इस संख्या को इन्हीं वर्गों के आधार पर बांटा जाए और हर वर्ग पर पुनर्वास के लिए सकारात्मक काम किया जाए तो बिल्कुल मुमकिन है कि भारत का कोई भी मुसलमान भीख मांगता नजर नहीं आएगा.!

आधार को पैन कार्ड से कैसे लिंक कर

May 12, 2017

Shanky❤Salty
Kya Aapko pata hai aapke PAN Card ko aadhar se link karna jaruri hai. Bharat Sarkar ke dwara ye spasht rup se bata diya gaya hai ki 31 June tak sabhi pan card users ko apna pan aadhar se link karna hoga, Agar aap aisa nahi karte hain to aapka PAN Card Cancel kar diya jayega. Link Aadhar Card With Pan Card me aap janenge ki kaise aap apne PAN ko aadhar se jodenge.

Hum sabhi jante hain ki desh me bharstachar aaj ek eham mudda hai. Log imandari se apna Tax Pay nahi karte hain jissey sarkar ko bahut nuksan hota hai. Yafir kai trah farjiwade bhi ho rahe hai. Logon ke paas ek se adhik PAN Card bhi mil rahe hai. Inhi chijo par lagaam lagane ke liye Bharat Sarkar ne aisa thos kadam uthaya hai ki sabhi pan card ko aadahr se link kiya jaaye.

Agar aapne pehle se hi PAN Card banwa rakha hai to usey aadhaar ke saath link karna bahut hi jaruri hai. Finance Bill 2017 me Bharat sarkar ne saaf bata diya hai ki ab pan card banwane ke liye aapke paas aadhar hona jaruri hai. Link Aadhar Card to PAN Card me maii Shanky❤Salty aapko batyega ki bus kuch simple steps kar ke aap ghar baithe bhi apne Phone ya Desktop se PAN ko aadhaar se kaise link kar sakte hain.
PAN CARD 

PAN Card Ka Full Name Permanent AccountNumber hai. Jisko Income Tax Department ke dwara issue kiya jaata hai. Aapk PAN Number 10 digit ka Unique Number hota hai. Aap Ek se adhik PAN Card nahi banwa sakte hain. Agar aapne aisa kiya to ye puritrah se galat hai aur apradh ki shreni me aata hai. Pan Card ka use Goverment ko tax pay karne ke liye karte hain. Income Tax Return ki filing ke aapke pass pan card hona bahut jaruri hai. 

Pan Card ka use aap Age Proof ke liye, Passport Banwane ke liye, Stock Market me invest karne ke liye kar sakte hain. PanCard ka use aap aur bhi kai chijo me le sakte hain. Aap agar 18 ya 18+ hain to PAN Card ke liye aavedan kar sakte hain. 

Aadhar Card 

Aadhaar Card Unique Identification Card hai, Jisey Bharat sarkar ke dwara sabhi bhartiyo ke liye diya gaya hai. Aadahr Card Unique Identification Authority of India ke dwara isuue kiya jata hai. Aadhar Number aapka 12 digit ka unique number hota hai. Aadhar me aapki Photo, Address sabhi available hota hai. Aur Aadhar aaj sabhi ke liye jaruri hai. Aadhar Card Bharat Sarkar ki acchi pehal hai jisme aapke ek document me hi aapki Bio metricaur Demographic information hoti hai.

Aap Aadhar Card aur PAN Card ki basic Details to samjh gaye hain. Ab inko link karne ke liye simple Steps hain jo aapko follow karne hai. Aapko kanhi jane ki jarurat nahi hai. Aap apne ghar ya office se baith kar hi Aadhar se pan card ko link kar denge.

#Step 1. Sabse Pehle Aapko Income Tax India ki E Filing Portal Par Jana Hoga Janha Aapko Login Here Par Click Karna hai.

#Step 2. Log in Here Par click karne ke baad agar aap pehle se hi log in hain to User Id , Password aur Captcha Code Enter Kar ke login ho jaiye Ya fir agar aap New Use hain to To Register Now Par Click kar kijiye. Aur apne Card ka type Select kijiye. Aap agar meri trah individual user to individual par tick kar dein. Aur Continue par click kar dein.

#Step 3. Ab aap apna PAN Card Apne Paas Rakh Lijiye. Yanha aapke Pan Card Se related kuch details mangi jayengi. 

1. Yanha apne 10 Digit ka alpha numeric pan no daaliye. 

2. Yanha Surname Daliye Surnme aapke name ka last wala name hai.

3. Middle name hai to wo enter kijiye.

4. Apna First Name Enter kijiye. 

5. Aapke Pancard jo date of birth mention wo enter kijiye. 

6. Continue par click kar dijiye.

#Step 4. Continue Par Click karne ke baad Ek Form aur open hota hai janha aapko Password set karna hai. Uske baad 2 security question, aapka phone Number, Email Id, Address ye sabhi fill kar ke ok kar dena hai. Uske baad aapke paas ek email aati hai. Aur Mobile par ek pin bheja jaata hai. Isliye aap valid email id aur mobile number enter karein.

#Step 6. Verification ke liye Jo mail bheji gai hai us mail ko open kar lein. Wanha aapko activation link mil jayega janha aapko click karna hai. Activation link par click karne ke baad aapse Mobile pin mangijayegi Jo aapke mobile par bhej di gai usko enter kar ke ok kar dijiye.

#Step 7. Apne PAN Card ke saath complete registration kar liya ab aapko aapka aadhar add karna hai apne pan ke saath to Aadhar ko pan ke saath Link kar ke liye. Services Section me Link Aadhar par click kijiye. Ab apna Pan aur aadhar apne saath rakhiye. 

1. Apna Pan Number enter kijiye.

2.Aapna 12 digit ka unique aadhaar number enter kijiye. 

3. Aapke Aadhar Card par jo name hai wo enter kijiye. 

4. Captcha Code enter kijiye. 

5. Link To aadhar par click kardijiye.

Agar aap pehle se hi log in hai to direct aadhar ko pan se link kar sakte hain.


Bus 7 steps ko pura karte hi aapka aadhar aapke pan se link ho jaata hai.

Congratulations Aapka Aadhaar Aapke PAN ke saath Sucessfully link ho gaya hai.

To aapko in simple steps ko follow kar ke eaisly aadhar pan ko link kar sakte hain. Agar aapko Aadhar pan link karne me koi bhi problem aa rahi ho to mujhe comment me jarur bataiye.

Aur aapko ye post kaisa laga hume comment me  batayein.

Aur aapse request hai post ko share bhi kijiye taaki dusre log bhi valid tarike se Aadhaar ko pan se link kar sakein. Aur apne PAN Number ko deactivate hone se bacha sakein.

”INDIAN” शब्द का वास्तविक अर्थ जानकर,शर्म से डूब जाएंगे आप ।

May 8, 2017

Shanky ❤ Salty

Indian” शब्द का अर्थ है हरामी संतान, आपने पढ़ा होगा अंग्रेजोँ के समय मेँ सिनेमाघरोँ और कई सार्वजनिक जगहोँ पर “Dogs and Indians are not allowed”  का बोर्ड लगा रहता था इसी से आप समझ सकते हैँ अंग्रेज के लिये इंडियन्स की क्या वैल्यू थी।

लेकिन यदि आप ऑक्सफ़ोर्ड की पुरानी डिक्शनरी (Oxford Dictionary) खोलें तो पृष्ठ नं० 789 पर लिखा है Indian जिसका मतलब बताया गया है कि “old-fashioned & criminal peoples” अर्थात् पिछड़े और घिसे-पिटे विचारों वाले अपराधी लोग तथा India का एक और अर्थ है “वह व्यक्ति या दंपत्ति जिसके माता-पिता का विवाह चर्च में नहीं हुआ हो। अर्थात “Indian” शब्द का अर्थ है उस दंपत्ति से पैदा संतानें जो की चर्च में विवाह न होने के कारण नाजायज हैं मतलब कि बास्टर्ड या फिर हरामी संतान |ब्रिटेन में वहां के नागरिकों को “इंडियन” कहना क़ानूनी अपराध है |

भारत” या “इंडिया”  इस देश का क्या नाम है ? सरकार से यही सवाल लखनऊ की सामाजिक कार्यकर्ता ने पूछ कर केंद्र सरकार को मुश्किल में डाल दिया है सूचना के अधिकार क़ानून यानी आर0 टी0 आई0  के तहत पूछा है कि सरकारी तौर पर भारत का क्या नाम है?

उन्होंने बीबीसी को बताया, “इस बारे में हमारे बीच काफी असमंजस है। बच्चे पूछते हैं कि जापान का एक नाम है, चीन का एक नाम है लेकिन अपने देश के दो नाम क्यूं हैं.” उनके इस सवाल ने सरकारी दफ्तरों में हलचल मचा दी है क्योंकि सरकार के पास फिलहाल इसका कोई जवाब नहीं है.

जबाब में आवेदक चाहता है कि  “हमें सुबूत चाहिए कि किसने और कब इस देश का नाम “इंडिया” रखा ? या भारत को “इंडिया” कहने का फैसला कब किसके द्वारा लिया गया ?”

उक्त आवेदन पर प्रधानमंत्री कार्यालय से उन्हें जवाब मिला है जिसमें कहा गया है कि “उनके आवेदन को गृह मंत्रालय के पास भेजा गया है.”
गृह मंत्रालय में भी इस सवाल का जवाब किसी के पास नहीं था अतः इसे “संस्कृति विभाग” और फिर वहां से “राष्ट्रीय अभिलेखागार” भेजा गया है जहां जानकारी खोजी जा रही है.

राष्ट्रीय अभिलेखागार 300 वर्षों के सरकारी दस्तावेज़ों का संग्रह है. वहां के एक अधिकारी ने बताया है कि  “हम इसका जवाब ढूंढ रहे हैं. जवाब शीघ्र ही भेजा जाएगा.”

भारतीय संविधान की प्रस्तावना में लिखा है- ‘इंडिया दैट इज़ भारत’. इसका मतलब यह हुआ है कि देश के दो नाम हैं. सरकारी तौर पर ‘गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया’ भी कहते हैं और ‘भारत सरकार’ भी कहते हैं.

सरकारी कार्यवाही में भारत और इंडिया दोनों का इस्तेमाल किया जाता है जबकि हमारे संविधान में भी कहा गया है “इंडिया दैट इज भारत”|

कुछ विद्वान मानते हैं कि “इंड” शब्द कि उत्पत्ति “सिंध” शब्द से हुई है इसी “इंड” से इंडिया बना किन्तु यह विचार गलत है क्योंकि जिन स्थानों पर सिंध नदी नहीं थी वहाँ के निवासियों के लिए भी अंग्रेज “इंड” शब्द का प्रयोग करते थे | जैसे कि अमेरिका के मूल निवासियों को “रेड इंडियन” कहा जाता था इसके अलावइंडोचीन, इंडोनेशिया, वेस्टइंडीज़, ईस्टइंडीज़ आदि शब्दों के प्रयोग में सिंधु से कोई लेना-देना नहीं है |

अर्थात “इंडियन” शब्द शत प्रतिशत गुलामी का प्रतीक है नफरत भरा शब्द है क्योंकि जो लोग ईसाई चर्चों की मान्यताओं के अनुसार विवाह नहीं करते थे उन्हें ‘इंडियन’ कहा जाता है ।

कैसे अंग्रेज़ो ने हमारे धार्मिक ग्रंथो,शास्त्रों से छेड़खानी की है ।

बहुत कम लोग जानते है की हमारी बहुत सी धार्मिक किताबें, शास्त्र और इतिहास के साथ अंग्रेज़ो ने बहुत छेड़खानी करी है ! आपको सुन कर हैरानी होगी भारत मे एक मूल प्रति है मनुसमृति की जो हजारो वर्षो से आई है और एक मनुस्मृति अंग्रेज़ो ने लिखवाई है ! और अंग्रेज़ो ने इसको लिखवाने मे मैक्स मुलर की मदद ली थी मैक्समुलर एक जर्मन विद्वान था जिसको संस्कृति बहुत अच्छे से आती थी उसको कहा गया की तुम भारत के शास्त्रो को पढ़ो और पढ़ कर हमको बताओ की उनमे क्या है फिर जरूरत पढ़ने पर इसमे फेरबदल करेंगे !
तब मैक्स मुलर ने मनुस्मृति का अनुवाद किया पहले जर्मन मे किया फिर अँग्रेजी मे किया तब अंग्रेज़ो को समझ आया की मनुस्मृति तो भारत की न्यायव्यवस्था की सबसे बड़ी पुस्तक है और भारत की न्याय व्यवस्था का आधार है ! तो उन्होने मनुसमृति मे ऐसे विक्षेप डलवा दिये ताकि भारत वासियो को भ्रमाया जा सके और उनको गलत रास्ते पर चलाया जा सके ! उनको मनुस्मृति के प्रति बहुत ज्यादा नीचाई की 

भावना पैदा हो इस तरह के विक्षेप डलवा दिये !
ये विक्षेप केवल मनु स्मृति मे नहीं डाले गए बल्कि बहुत सारे अन्य ग्रंथो मे डाले गए और अंग्रेज़ो की बहुत बड़ी टीम थी जो इस कार्य मे लगी हुई थी कोई साधारण अंग्रेज़ो ने ये काम नहीं किया था! विलियम हंटर नाम का अंग्रेज़ हुआ करता था जिसने सबसे ज्यादा भारत के इतिहास मे विकृति डाली सबसे ज्यादा भारत के शास्त्रो के विकृत किया ! जिसने सबसे ज्यादा भारत के पुराने ऋषि, मुनियो के आत्म वचनो को बिलकुल उल्टा करके बताया !

और ये सब वो कैसे कर पाया ? वो ये कि विलियम हंटर अंग्रेज़ो बहुत अच्छी जानता था और उसके साथ साथ उसको संस्कृत भी आती थी ! क्योंकि भारतीय मूल ग्रंथ संस्कृत मे है तो वो उनको पढ़ लेता था और फिर अंग्रेजी मे कहाँ कहाँ उसको विकृति कर बनाना है वो कर लेता था ! विलियम हंटर की पूरी टीम थी जो इस कार्य मे लगी थी जिसको कहा गया विलियम हंटर कमीशन !

विलियम हंटर कमीशन की रिपोर्ट के बारे मे बात की जाए तो घंटो घंटो उसी मे निकल जाए हजारो पन्नो मे उन्होने ने रिपोर्ट बनाकर उन्होने ने ये बताया है कि हमने भारत के किस किस विष्य मे किस किस शस्त्र मे क्या क्या परिवर्तन कर दिये है ये उसने अँग्रेजी संसद को भेंट किया था और फिर उस पर बहस हुई थी तो अंग्रेज़ो ने अपने देश मे ऐसे बहुत सारे विद्वानो को तैयार करके भारत के शास्त्रो मे विक्षेपन करवाया बहुत कुछ ऐसी बातें भर दी उसमे जो की विश्वास करने लायक नहीं है तर्क पर कहीं ठहरती नहीं है और सूचना के आधार पर बिलकुल गलत हैं !!

आर्य बाहर से आए उन्होने भारतीय संस्कृति को खत्म कर दिया हमारे पूर्वज गौ मांस खाते थे ! ना जाने ऐसी हजारो हजारों बातें और संस्कृत के शब्दो का गलत अर्थ निकाल कर हमारे शास्त्रो मे इन अंग्रेज़ो द्वारा भर दिया गया जो आज भी हमको जानबूझ कर पढ़ाया जा रहा है ताकि हम गुमराह होते रहे हम हिन्दू अपनी अपनी जातियो मे ऊंच-नीच करते ! और हमारे मन हमारी, संस्कृति, सभ्यता के प्रति गलत भावना पैदा हो !!

तो मित्रो अंत आपसे निवेदन है को भी भारतीय ग्रंथ, धार्मिक पुस्तक, शास्त्र पढ़ें तो ध्यान रहे वो इन अंग्रेज़ो द्वारा छेड़खानी किया हुआ ना हो क्योंकि ज़्यादातर बाजार मे बिक रही किताबें वहीं है जिनमे अंग्रेज़ो ने छेड़खानी करी है !!

आखिर क्या है ? वैलेंटाइन डे का वास्तविक इतिहास।

18th February 2017

मित्रो यूरोप (और अमेरिका) का समाज जो है वो रखैलों (Kept) में विश्वासकरताहै पत्नियों में नहीं,। यूरोप और अमेरिका में आपको शायद ही ऐसा कोई पुरुष या महिला मिले जिसकी एक शादी हुई हो, जिनका एक पुरुष से या एक स्त्री से सम्बन्ध रहा हो और ये एक दो नहीं हजारों साल की परम्परा है उनके यहाँ |

आपने एक शब्द सुना होगा “Live in Relationship” ये शब्द आज कल हमारेदेश में भी नव-अिभजात्य वर्ग में चलरहा है, इसका मतलब होता है कि “बिना शादी के पती-पत्नी की तरह से रहना”| तो उनके यहाँ, मतलब यूरोप और अमेरिका में ये परंपरा आज भी चलती है,

खुद प्लेटो (एक यूरोपीय दार्शनिक) का एक स्त्री से सम्बन्ध नहीं रहा,

प्लेटोने लिखा है कि “मेरा 20-22 स्त्रीयों से सम्बन्ध रहा है” अरस्तु भी यही कहताहै, देकातेर् भी यही कहता है, और रूसो ने तो अपनी आत्मकथा में लिखा है कि “एक स्त्री के साथ रहना, ये तोकभी संभव ही नहीं हो सकता, It’s Highly Impossible” | तो वहां एक पत्नि जैसा कुछ होता नहीं |

इन सभी महान दार्शनिकों का तो कहना है कि “स्त्री में तो आत्मा ही नहींहोती” “स्त्री तो मेज और कुर्सी के समान हैं, जब पुराने से मन भर गया तोपुराना हटा के नया ले आये ” | तो बीच-बीच में यूरोप में कुछ-कुछ ऐसेलोग निकले जिन्होंने इन बातों का विरोध किया और इन रहन-सहन की व्यवस्थाओं पर कड़ी टिप्पणी की |

उन कुछ लोगों में से एक ऐसे ही यूरोपियन व्यक्ति थे जो आज से लगभग 1500 साल पहले पैदा हुए, उनका नाम था– वैलेंटाइन | और ये कहानी है 478 AD (after death) की, यानि ईशा की मृत्यु के बाद |

उस वैलेंटाइन नाम के महापुरुष का कहना था कि “हम लोग (यूरोप के लोग) जोशारीरिक सम्बन्ध रखते हैं कुत्तों की तरह से, जानवरों की तरह से, ये अच्छानहीं है, इससे सेक्स-जनित रोग (veneral disease) होते हैं, इनको सुधारो, एक पति-एक पत्नी के साथ रहो, विवाह कर के रहो, शारीरिक संबंधो को उसके बाद ही शुरू करो” ऐसी-ऐसी बातें वो करते थे और वो वैलेंटाइन महाशय उन सभी लोगों को येसब सिखाते थे, बताते थे, जो उनके पासआते थे, रोज उनका भाषण यही चलता था रोम में घूम-घूम कर |

संयोग से वो चर्च के पादरी हो गए तो चर्च में आने वाले हर व्यक्ति को यहीबताते थे, तो लोग उनसे पूछते थे कि ये वायरस आप में कहाँ से घुस गया, येतोहमारे यूरोप में कहीं नहीं है, तो वोकहते थे कि “आजकल मैं भारतीय सभ्यताऔर दशर्न का अध्ययन कर रहा हूँ, और मुझे लगता है कि वो परफेक्ट है, और इसिलए मैं चाहता हूँ कि आप लोग इसे मानो”, तो कुछ लोग उनकी बात को मानते थे, तो जो लोग उनकी बात को मानते थे, उनकी शादियाँ वो चर्च में कराते थे और एक-दो नहीं उन्होंने सैकड़ों शादियाँ करवाई थी |

जिस समय वैलेंटाइन हुए, उस समय रोम का राजा था क्लौड़ीयस, क्लौड़ीयस नेकहा कि “ये जो आदमी है-वैलेंटाइन, ये हमारे यूरोप की परंपरा को बिगाड़रहा है, हम बिना शादी के रहने वाले लोग हैं, मौज-मजे में डूबे रहने वाले लोग हैं, और ये शादियाँ करवाता फ़िर रहा है, ये तो अपसंस्कृति फैला रहा है, हमारी संस्कृति को नष्ट कर रहा है”, तो क्लौड़ीयस ने आदेश दियाकि “जाओ वैलेंटाइन को पकड़ के लाओ “, तो उसके सैनिक वैलेंटाइन को पकड़के ले आये |

क्लौड़ीयस ने वैलेंटाइन से कहा कि “ये तुम क्या गलत काम कर रहे हो ? तुम अधर्म र्फैला रहे हो, अपसंस्कृति ला रहे हो” तो वैलेंटाइन ने कहा कि “मुझे लगता है कि ये ठीक है” , क्लौड़ीयस ने उसकी एक बात न सुनी और उसने वैलेंटाइन कोफाँसी की सजा दे दी, आरोप क्या था किवो बच्चों की शादियाँ कराते थे, मतलब शादी करना जुर्म था|

क्लौड़ीयस ने उन सभी बच्चों को बुलाया, जिनकी शादी वैलेंटाइन नेकरवाई थी और उन सभी के सामने वैलेंटाइन को 14 फ़रवरी 498 ईःवी कोफाँसी दे दिया गया |पता नहीं आप में से कितने लोगों को मालूम है कि पूरे यूरोप में 1950 ईःवी तकखुले मैदान में, सावर्जानिक तौर पर फाँसी देने की परंपरा थी |

तो जिन बच्चोंने वैलेंटाइन के कहने पर शादी की थीवो बहुत दुखी हुए और उन सब ने उसवैलेंटाइन की दुखद याद में 14 फ़रवरी को वैलेंटाइन डे मनाना शुरू किया तो उसदिन से यूरोप में वैलेंटाइन डे मनाया जाता है | मतलब ये हुआ कि वैलेंटाइन, जो कि यूरोप में शादियाँकरवाते फ़िरते थे, चूकी राजा ने उनको फाँसी की सजा दे दी, तो उनकी याद में वैलेंटाइन डे मनाया जाता है| ये था वैलेंटाइन डे का इतिहास और इसके पीछे का आधार |

अब यही वैलेंटाइन डे भारत आ गया है जहाँ शादी होना एकदम सामान्य बात हैयहाँ तो कोई बिना शादी के घूमता हो तो अद्भुत या अचरज लगे लेकिन यूरोप में शादी होना ही सबसे असामान्य बातहै | अब ये वैलेंटाइन डे हमारे स्कूलों में कॉलजों में आ गया है औरबड़े धूम-धाम से मनाया जा रहा है औरहमारे यहाँ के लड़के-लड़िकयां बिनासोचे-समझे एक दुसरे को वैलेंटाइन डे का कार्ड दे रहे हैं|

और जो कार्ड होता है उसमे लिखा होता है ” Would You Be My Valentine” जिसका मतलब होता है “क्या आप मुझसे शादी करेंगे” | मतलबतो किसी को मालूम होता नहीं है,वो समझते हैं कि जिससे हम प्यार करते हैं उन्हें ये कार्ड देना चाहिए तो वो इसी कार्ड को अपने मम्मी-पापा को भी दे देते हैं, दादा-दादी को भी दे देते हैं और एक दो नहीं दस-बीस लोगों को ये ही कार्ड वो दे देते हैं |

मित्रो जब बिना सोचे समझे नकल की जाती है तो ये ही होता है ।और इस धंधे में बड़ी-बड़ी कंपिनयाँ लग गयी हैं जिनको कार्ड बेचना है, जिनकोगिफ्ट बेचना है, जिनको चाकलेट बेचनीहैं और टेलीविजन चैनल वालों ने इसकाधुआधार प्रचार कर दिया | सब बातें छोड़िए मित्रो पिछले वर्ष online एक website ने मात्र वैलेंटाईन डे पर डेड लाख अधिक कंडोम की बिक्री की , सोचिए पूरे देश मे ये आंकड़ा क्या रहा होगा । वास्तव मे ये विदेशी त्योहार हमे किस और धकेल रहे है आप अनुमान लगा लीजिये ,ऐसे त्योहारों से भारत का भविष्य क्या होगा ।

ये सब लिखने के पीछे का उद्देँशय यही है कि नक़ल आप करें तो उसमे अकल भी लगा लिया करें | उनके यहाँ साधारणतया शादियाँ नहीं होती है और जो शादी करते हैं वो वैलेंटाइन डे मनाते हैं और लेकिन हम भारत में क्यों ??

ShankySalty

आज भी लागू है,भारत के विनाश के लिए बनाया गया ब्रिटिश चार्टर एक्ट 1813

10th Feb 2017


ईस्ट इंडिया कंपनी के प्रारम्भिक दिनों में ही ईसाई मिशनरियों को ब्राटिश चार्टर एक्ट 1813 द्वारा लोगों को क्रिश्चियन बनाने और अँग्रेजी पढ़ाने की अनुमति दी गयी थीजिसे समय-समय पर संशोधित किया गया था । इसके बाद तो अंग्रेजों ने भारतकी जनता के पैसों पर ही एक “इक्लेज़्टिकल डिपार्टमेंट” बनाया, जिसके अधिकारी आर्चबिशप और बिशप होते थे। इस डिपार्टमेंट ने भारत केलगभग सभी नगरों के सामरिक और प्रमुखस्थानों पर कब्जा कर भारतियों के धनसे ही चर्च व स्कूल बनवाया और शिक्षा तथा स्वास्थ्य (एलोपैथी अस्पताल) के नाम पर भारत की लाखों एकड़ जमीन कब्ज़ा करके भारत के अंदर से गुरुकुल व आयुर्वेद का नामोनिशानमिटा दिया |
यह डिपार्टमेंट भारत की स्वतन्त्रता तक बना रहा । भारत की तथाकथित स्वतन्त्रता के पश्चात भी सरदार पटेल और राजेंद्र प्रसाद की आपत्तियों को दरकिनार करते हुये नेहरू और संविधान रचनाकारों ने हिंदुओं के सांस्कृतिक अधिकारों का अतिक्रमण कर अल्पसंख्यकों के नाम परईसाइयों और मुसलमानों को असीमित सांस्कृतिक अधिकार दे दिये। इसी कानून के तहत ईसाई मिशनरियों को आज़ादी के बाद भी भारत में प्रवेश औरअल्पसंख्यक (अँग्रेजी) शिक्षा के नाम पर धर्म-प्रचार और धर्म परिवर्तन के अधिकार प्राप्त हुए जोकि आजतक समाप्त नहीं किये जा सके हैं ।
विदेशों से मिल रहे अथाह पैसों पर ईसाई मिशनरी और मुसलमान प्रतिदिन हजारों हिंदुओं का धर्म परिवर्तन करा रहे हैं। ये धर्म परिवर्तन के लिए सभी हथकंडे अपनाते हैं। प्रार्थना सभा, चंगाई सभा, लव जेहाद इत्यादि नामों से हिंदुओं को छला जाता है और कई बार तो ईसा और साई जैसें को हिन्दू देवी-देवताओं जैसापेश किया जाता है ताकि आसानी से हिंदुओं का धर्म परिवर्तन कराया जा सके।
और तो और, आज खुद हिन्दू अपने बच्चोंको अच्छी शिक्षा के नाम पर “कान्वेंट-शिक्षित” कहलाने में गर्व महसूस करते हैं। यह कान्वेंट-शिक्षा का ही परिणाम है कि कुछ लोगों को अपनी भाषा व धर्म छोटा लगता है। ऊपर से भारतीय संविधान द्वारा अल्पसंख्यकों के नाम पर मुस्लिमों और ईसाइयो को दिये गए असीमित सांस्कृतिक अधिकार इस प्रवृति को बढ़ाने में और मददगार साबित हो रहे हैं।
इन दो पंथों के आक्रामक विस्तारवादीप्रवृति के कारण हिन्दू लोग एक दूसरे के दुश्मन बन गए हैं और भारत के प्राकृतिक संसाधनों पर इन विदेशीचरमपंथियों का अल्पसंख्यक के अधिकारों के नाम पर कब्जा हो गया है। ये लोग पश्चिमी स्वामित्व की भारतीय मीडिया को इस्तेमाल करके ‘भारत के टुकड़े-टुकड़े’ करने का षडयंत्र कर रहे हैं । इनके षडयंत्रों को देखते हुये यह बात सिद्ध हो जाती है कि भारत में हिंदुओं की संख्या घटते ही देश बटँ जाएगा और भारत में खूनी संघर्ष शुरूहो जाएगा । जिसके लक्षण दिखाई देने लगे हैं |
इसी ब्राटिश चार्टर एक्ट 1813 के तहत भारतीय पाठ्य पुस्तकों से रामायण, महाभारत, पंचतंत्र आदि भारतीय महाग्रन्थों को योजना बना करहटवाया गया और उनकी जगह पर पाकिस्तान प्रेम और ईसाई-सेकुलरवादको बढ़ावा देने वाली कहानियों को बच्चों को पढ़ाया जाने लगा। यह सिलसिला अभी भी जारी है। भारतीय सांस्कृतिक की हत्या हेतु ही “शिक्षा के अधिकार” (RTE) अधिनियम 2009 को हिन्दुओं द्वारा चलाये जा रहे निजी स्कूलों पर थोप दिया गया जबकि अल्पसंख्यकों के नाम पर मुस्लिम और ईसाई स्कूलों को इससे मुक्त रखा गया है । यहाँ तक की दूरदर्शन द्वारा प्रारम्भ से ही प्रयोग किए जा रहे “सत्यम शिवम सुंदरम” आदर्शवाक्य को बस इसलिए हटवाया क्योंकि यह उपनिषदों से है जो की हिन्दुओं के महान ग्रंथो में से एक है।
इसी ब्राटिश चार्टर एक्ट 1813 के तहत हिन्दुओं को सांस्कृतिक और सामरिक रूप से कमजोर करने के लिए आजभी हिन्दू तीर्थों, मेलों और आयोजनों पर अतिरिक्त कर लगाया जाता है जबकि मुस्लिम और ईसाई आयोजनों केलिए हिन्दुओं से ही वसूला गया “कर” मुफ्त में लूटाया जाता है। हमें यह बातें बिलकुल ही बुरी नहीं लगती क्यों कि हम हमेशा से यह देखते आए हैं और हमारी सोच व मानसिकता को पाठ्य-पुस्तकों और समाचार संचार माध्यमों से इस तरह की बना दी गयी है।
मुस्लिम और ईसाई आज भले ही हिंदुओं की तुलना में कई गुना कम हों पर उनके चर्च और वक्फ बोर्ड के पास हिन्दू-मंदिरों के मुक़ाबले कई-गुनाज्यादा जमीन-जायजाद व संपन्नता है फिर भी नेताओं को मंदिरों में पड़ा सोना ही दिखाई देता है, मुस्लिम और ईसाईयों की संपत्ति का हिसाब माँगनेका साहस किसी राजनेता में नहीं दिखाई देता है |
आखिर हिन्दू इसी ब्राटिश चार्टर एक्ट 1813 के तहत सभ्यता और संस्कृति के इस क्षद्म-युद्ध को कब तक झेलेगा | हिन्दू सभ्यता और संस्कृति विश्व की प्राचीनतम सभ्यताओं में से एक है, जिसे ये दोनों चरमपंथी तमाम कोशिशों के बाद भी पूरी तरह खत्म नहीं कर पाये हैं । हालांकि ये अभी भी प्रयासरत हैं ।हमें इनके षड्यंत्र को समझते हुये अपनी संस्कृति को पुनर्जीवित करना होगा। साथ ही अपने अस्तित्व के लियेविश्व के किसी भी मूल संस्कृति पर ईसाई और इस्लाम द्वारा हो रहे हमले का प्रतिकार करना होगा।
अगर हम आजाद हैं तो भारत के शोषण व लूट का ब्राटिश चार्टर आज भी भारत में क्यों लागू है ?
Shanky❤Salty

एक बार अंग्रेज़ मैकोले का 1835 मे लिखा ये पत्र पढ़ लीजिये आपको हैरान रह जाएंगे ।


9th Feb 2017

हिन्दी मे पढ़े क्या लिखा अंग्रेज़ macaulay ने 1835 मे अंग्रेज़ो की संसद को !!!

मैं भारत के कोने कोने मे घूमा हूँ मुझे एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं दिखाई दिया जो भिखारी हो चोर हो !

इस देश में मैंने इतनी धन दोलत देखी है इतने ऊंचे चारित्रिक आदर्श गुणवान मनुष्य देखे हैं की मैं नहीं समझता हम इस देश को जीत पाएंगे , जब तक इसकी रीड की हड्डी को नहीं तोड़ देते !

जो है इसकी आध्यात्मिक संस्कृति और इसकी विरासत !इस लिए मैं प्रस्ताव रखता हूँ ! की हम पुरातन शिक्षा व्यवस्था और संस्कृति को बादल डाले !
क्यूंकि यदि भारतीय सोचने लगे की जोभी विदेशी है और अँग्रेजी है वही अच्छा है और उनकी अपनी चीजों से बेहतर है तो वे अपने आत्म गौरव और अपनी ही संस्कृति को भुलाने लगेंगे!! और वैसे बन जाएंगे जैसा हम चाहते है ! एक पूरी तरह से दमित देश !!

और बड़े अफसोस के साथ कहना पड़ रहा है की macaulay अपने इस मकसद मे कामयाब हुआ !!
और जैसा उसने कहा था की मैं भारत की शिक्षा व्यवस्था को ऐसा बना दूंगा की इस मे पढ़ के निकलने वाला व्यक्ति सिर्फ शक्ल से भारतीय होगा! और अकल से पूरा अंग्रेज़ होगा !!

और यही आज हमारे सामने है दोस्तो ! आज हम देखते है देश के युवा पूरी तरह काले अंग्रेज़ बनते जा रहे है !!
उनकी अँग्रेजी भाषा बोलने पर गर्व होता है !!

अपनी भाषा बोलने मे शर्म आती है !!

madam बोलने मे कोई शर्म नहीं आती!

श्री मती बोलने मे शर्म आती है !!

अँग्रेजी गाने सुनने मे गर्व होता है !!

मोबाइल मे अँग्रेजी tone लगाने मे गर्व होता है !!

विदेशी समान प्रयोग करने मे गर्व होता है !

विदेशी कपड़े विदेशी जूते विदेशी hair style बड़े गर्व से कहते है मेरी ये चीज इस देश की है उस देश की है !

ये made in uk है ये made इन america है !!
अपने बच्चो को convent school पढ़ाने मे गर्व होता है !!

बच्चा ज्यादा अच्छी अँग्रेजी बोलने लगे तो बहुत गर्व ! 

हिन्दी मे बात करे तो अनपद !

विदेशी खेल क्रिकेट से प्रेम कुशती से नफरत !!!

विदेशी कंपनियो pizza hut macdonald kfc पर जाकर कुछ खाना तो गर्व करना !!

और गरीब रेहड़ी वाले भाई से कुछ खाना तो शर्म !!
अपने देश धर्म संस्कृति को गालिया देने मे सबसे आगे !! 

सारे साधू संत इनको चोर ठग नजर आते है !!

लेकिन कोई ईसाई मिशनरी अँग्रेजी मे बोलता देखे तो जैसे बहुत समझदार लगता है !!

करोड़ो वर्ष पुराने आयुर्वेद को गालिया ! 

और अँग्रेजी ऐलोपैथी को तालिया !!!

विदेशी त्योहार वैलंटाइन मनाने पर गर्व !! 

स्वामी विवेकानद का जन्मदिनयाद नहीं !!!!

दोस्तो macaulay अपनी चाल मे कामयाब हुआ !! 

और ये सब उसने कैसे किया !!

अगर आपका बच्चा शक्ल से भारतीय और अकल से अंग्रेज़ होता जा रहा है !

तो एक बार जरूर देखे आपको जवाब मिल जाएगा !

Shanky❤Salty

कैसे अंग्रेज़ो ने हमारे धार्मिक ग्रंथो,शास्त्रों से छेड़खानी की है ।

मित्रो बहुत कम लोग जानते है की हमारी बहुत सी धार्मिक किताबें,शास्त्र और इतिहास के साथ अंग्रेज़ो ने बहुत छेड़खानी करी है ! आपको सुन कर हैरानी होगी भारत मे एकमूल प्रति है मनुसमृति की जो हजारो वर्षो से आई है और एक मनुस्मृति अंग्रेज़ो ने लिखवाई है ! और अंग्रेज़ो ने इसको लिखवाने मे मैक्स मुलर की मदद ली थी मैक्स मुलर एक जर्मन विद्वान था जिसको संस्कृति बहुत अच्छे से आती थी उसको कहा गया की तुम भारत के शास्त्रो को पढ़ो और पढ़ कर हमको बताओ की उनमे क्या है फिर जरूरत पढ़ने पर इसमे फेरबदल करेंगे !

तब मैक्स मुलर ने मनुस्मृति का अनुवाद किया पहले जर्मन मे किया फिरअँग्रेजी मे किया तब अंग्रेज़ो को समझ आया की मनुस्मृति तो भारत की न्यायव्यवस्था की सबसे बड़ी पुस्तक है और भारत की न्याय व्यवस्था का आधार है ! तो उन्होने मनुसमृति मे ऐसे विक्षेप डलवा दिये ताकि भारत वासियो को भ्रमाया जा सके और उनको गलत रास्ते पर चलाया जा सके ! उनको मनुस्मृति के प्रति बहुत ज्यादा नीचाई की भावना पैदा हो इस तरह के विक्षेप डलवा दिये !
ये विक्षेप केवल मनु स्मृति मे नहींडाले गए बल्कि बहुत सारे अन्य ग्रंथो मे डाले गए और अंग्रेज़ो की बहुत बड़ी टीम थी जो इस कार्य मे लगी हुई थी कोई साधारण अंग्रेज़ो ने ये काम नहीं किया था! विलियम हंटर नाम का अंग्रेज़ हुआ करता था जिसने सबसे ज्यादा भारत के इतिहास मे विकृति डाली सबसे ज्यादा भारत के शास्त्रो के विकृत किया ! जिसने सबसे ज्यादा भारत के पुराने ऋषि ,मुनियो के आत्म वचनो को बिलकुल उल्टा करके बताया !
और ये सब वो कैसे कर पाया ? वो ये किविलियम हंटर अंग्रेज़ो बहुत अच्छी जानता था और उसके साथ साथ उसको संस्कृत भी आती थी ! क्योंकि भारतीयमूल ग्रंथ संस्कृत मे है तो वो उनकोपढ़ लेता था और फिर अंग्रेजी मे कहाँकहाँ उसको विकृति कर बनाना है वो करलेता था ! विलियम हंटर की पूरी टीम थी जो इस कार्य मे लगी थी जिसको कहा गया विलियम हंटर कमीशन !
विलियम हंटर कमीशन की रिपोर्ट के बारे मे बात की जाए तो घंटो घंटो उसी मे निकल जाए हजारो पन्नो मे उन्होने ने रिपोर्ट बनाकर उन्होने ने ये बताया है कि हमने भारत के किस किस विष्य मे किस किस शस्त्र मे क्या क्या परिवर्तन कर दिये है ये उसने अँग्रेजी संसद को भेंट किया थाऔर फिर उस पर बहस हुई थी तो अंग्रेज़ो ने अपने देश मे ऐसे बहुत सारे विद्वानो को तैयार करके भारत के शास्त्रो मे विक्षेपन करवाया बहुत कुछ ऐसी बातें भर दी उसमे जो की विश्वास करने लायक नहीं है तर्क पर कहीं ठहरती नहीं है और सूचना के आधार पर बिलकुल गलत हैं !!
आर्य बाहर से आए उन्होने भारतीय संस्कृति को खत्म कर दिया हमारे पूर्वज गौ मांस खाते थे !ना जाने ऐसी हजारो हजारों बातें और संस्कृत के शब्दो का गलत अर्थ निकाल कर हमारे शास्त्रो मे इन अंग्रेज़ो द्वारा भर दिया गया जो आज भी हमको जानबूझ कर पढ़ाया जा रहा है ताकि हम गुमराह होते रहे हम हिन्दू अपनी अपनी जातियो मे ऊंच -नीच करते ! और हमारे मन हमारी ,संस्कृति ,सभ्यता के प्रति गलत भावना पैदा हो !!
तो मित्रो अंत आपसे निवेदन है को भीभारतीय ग्रंथ ,धार्मिक पुस्तक,शास्त्र पढ़ें तो ध्यान रहे वो इन अंग्रेज़ो द्वारा छेड़खानी किया हुआ ना हो क्योंकि ज़्यादातर बाजार मे बिक रही किताबें वहीं है जिनमे अंग्रेज़ो ने छेड़खानी करी है !!
मेरी पुरी बलौग पढ़ने के लिए धन्यवाद!!!!!!

Shanky 💘 Salty

Bhaut Yaad aati Hoo………

8th Feb 2017

Bhaut yaad aati hoo………

Pyrii  Salty jaraa hmari sunoo, Mujhe tmse kutch kahnaa haii

Jayada Waqt ni lugaa, Jaraa sii baat kahniii haii

Naa Drd sunana haii, Na fariyad krni haiii

Na ye maalum krna hai ki tm ab kaisii ho

Na ye maalum krna hai kii ab Din-Raat kaise hai

Hmee to bss itnaa khna h jaan Salty tmhari Bhaut yaad aati hai…….😥😥😥:'(:'(