Posted in Uncategorized

महाशिवरात्री…….!!!!

March 4, 2019
Shanky❤Salty

जहाँ पर

ज़िंदगी को नतमस्तक होनी पड़ती हो

मृत्यु को इजाजत लेनी पड़ती हो

वहाँ पर

पालनहार हो तुम

विनाशक हो तुम

त्रिपुरारी हो तुम

त्रिभुवन सुख दाता हो तुम

मेरे ह्रदय के स्वामी हो तुम

नर्मदा का कंकर हो तुम

हमारे शिव शंकर हो तुम

जन्म से दूर हो तुम

मृत्यु के गुरूर हो तुम

ध्यान में लीन हो तुम

गंगा के समान शालीन हो तुम

शून्य हो तुम

शुरुआत हो तुम

अंत हो तुम

अंत के अन्नंत हो तुम

आँखों कि आश हो तुम

ह्रदय कि प्याश हो तुम

मंदिरों कि ज्योत हो तुम

श्मशानों कि राख हो तुम

राम के आराध्य रामेश्वर हो तुम

रावण के आराध्य रूद्र हो तुम

विष्णु के ह्रदय से निकलने वाले भुवनेश्वर हो तुम

ज्ञान में गुरूगीता हो तुम

ध्यान में ऊँ कार हो तुम

ब्रम्हा का ज्ञान हो तुम

विष्णु का ध्यान हो तुम

नृत्यों में नृत्य हो तुम

गीतों में गीत हो तुम

तेरी मोहब्बत से ही मोहब्बत में मोहब्बत है जोगी

तरी खुशबू से ही खुशबू में खुशबू है योगी

चिता कि राख लपेट तुमने उसे पवित्र कर दिया

अघोरी हो तुम

विष को कंठ मे धारण उसे भी अमृत कर दिया

नीलकंठ हो तुम

पाताल का द्वार हो तुम

वैकुंठ का भी द्वार हो तुम

सच कहूं तो स्वयं मोक्ष हो तुम

प्रचंड हो तुम

तांडव हो तुम

गर्जना हो तुम

मौन हो तुम

सुख जिसे सुखी कर ना सके

दुख जिसे दुखी कर ना सके

वह दिव्य ज्ञान हो तुम

भोले हो तुम

इसलिए नाथों के नाथ भोलेनाथ हो तुम

अंधकार हो तुम

उसको चीरता हुआ प्रकाश हो तुम

हे विषधर,

आज चार मार्च को

महादेव कि बारात में

महाशिवरात्री कि रात में

विषपान करा दो

अधरामृत का पान करा दो

भक्ति सुधा रस में लिन करा दो

ऊँ नमः शिवाय का आत्मगुजंन करा दो

शंभू बन स्वयं-भू से मिला दो

बं बं बं का अनहद नाद सुना दो

सुना है ग़ालिब ने माला तोड़ दी थी यह कह कर

गिनकर क्यों नाम लूँ उसका जो बेहिसाब देता है।

आज हमने भी यह सोच अपनी कलम रख दी

कही दर्द ना हो जाए मेरे महादेव को, कलम कि नोक के नीचे आ के।

मैं अक्सर महादेव से कहता हूं

तुझसे ही तो रोशन यह चाँद सितारे है

और वह चाँद अक्सर महादेव से कहे

चाँद तु हमारा है

गीता मे श्री कृष्ण कहते है

नाहं वसामि वैकुंठे योगिनां हृदये न च।

मद्भक्ता यत्र गायन्ति तत्र तिष्ठामि नारद।।

अर्थात:- हे देवर्षि ! मैं न तो वैकुण्ठ में निवास करता हूँ और न ही योगीजनो के ह्रदय में मेरा निवास होता है। मैं तो उन भक्तों के पास सदैव रहता हूँ जहाँ मेरे भक्त मुझको चित्त से लीं और तन्मय होकर मुझको भजते है। और मेरे मधुर नामों का संकीर्तन करते है।

और महादेव मैं कहता हूं

काल जिसके अधीन है वह महाकाल है

महाकाल जिसके अधीन है वह आशीष है

Thank you so much Jiddy Nidhi for helping me to publishing this post.
Read my thoughts on YourQuote Instagram Mirakee

Author:

I am Ashish Kumar. I am known as Shanky. I was born and brought up in Ramgarh, Jharkhand. I have studied Electronics and Communication Engineering. I have written 6 books. I have come to know so much of my life that life makes me cry as much as death. Have you heard that this world laughs when no one has anything, if someone has everything, this world is longing for what I have, this world. Whatever I am, I belonged to my beloved Mahadev. What should I say about myself? Gradually you will know everything.

41 thoughts on “महाशिवरात्री…….!!!!

  1. Dziękuję pozdrowienia To jest piękne

    -/~~~~/*.

    pon., 4 mar 2019, 06:53 użytkownik Shanky❤Salty napisał:

    > ShankySalty posted: ” March 4, 2019 Shanky[image: ❤]Salty जहाँ पर ज़िंदगी > को नतमस्तक होनी पड़ती हो मृत्यु को इजाजत लेनी पड़ती हो वहाँ पर पालनहार हो > तुम विनाशक हो तुम त्रिपुरारी हो तुम त्रिभुवन सुख दाता हो तुम मेरे ह्रदय के > स्वामी हो तुम नर्मदा का कंकर हो तुम हमारे शिव शंकर हो तुम जन्म” >

    Liked by 2 people

  2. Fir se century maara tune. Outstanding post shanky. Death, life, love, devotion, spirituality, pain, tears sb kuch h. Mahasivratri ki tmko baut si blessings.

    Liked by 2 people

  3. Mai baar baar tumhari poem ko padh rahi hu shanky. Tum parents ko love karte ho, salty ko v, shiva ko, frds, culture, riya, country, sister se itna love karte ho ki tumhara Sajda karne ko ji karta h. Tumse sekh na hoga hame love kaya hota h. Shiva ka Rudraksha, pen torne wali baat, shanky your love is pure & divine. I pray for you in front of lord shiva. I very lucky that you are my friend. You are a great and great author.

    Liked by 1 person

    1. सुंदर इसलिए है क्योंकि हमारे महादेव का जिक्र है। आपने अपना बहुमूल्य समय दे कर मेरी भावनाओं को पढ़ा है इसके लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद🙏😊
      हरि ऊँ नम: शिवाए

      Liked by 2 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.