Posted in Uncategorized

आजादी का पर्व……!!!!

August 15, 2018
Shanky❤Salty

काफी दिनों के बाद मैं आज सुबह जल्दी उठा
क्युकिं पापा को आज ऑफिस जल्दी जाना था
घर से बाहर निकला दूध लाने को
तो थोड़ा अचम्भित रह गया

सड़के साफ सुथरी नजर आ रही थी
हर दुकान तिरंगे से सजा हुआ था
हर गाड़ी पे तिरंगा लगा हुआ था
छोटे छोटे बच्चे हाथों में तिरंगा लिए स्कूल जा रहे थे

तभी मेरे फोन पे एक मेसेज आता है
सुप्रभात!!!!! हैप्पी इंडिपेंडेंस हे!!!!!

और मुझे ज़ोर से हँसी आती है
क्युकिं आज वही आजादी का पर्व है जब
लाल किले से कोई पगड़ी वाला
आपना मौन व्रत तोड़ेगा
और देखकर भाषण पढ़ेगा

या
कोई छप्पन इंच सिने वाल
नई-नई योजनाएँ लाएगा, सरकार कि उपलब्धियाँ गिनाएगा

आज बड़ी-बड़ी दुकानों में
बड़े-बड़े अॉफर मिलेंगे
पर हर चौराहे पे एक गरीब बच्चा
फटे-पुराने कपड़े पहने
तिरंगा बेचते जरूर मिलेगा
और कुछ वाहियात इंसान वहाँ देखने को भी मिलेगे
जो उन बच्चों से तिरंगे लेते वक्त मोल-भाव करते नजर आएँगे

पूरे देश में सुबह से शाम तक
हर जगह आजादी का पर्व मनाया जाएगा
सोशल मिडिया भी हर जगह तिरंगें के रंग में डूबा नजर आएगा
फिर रात होते-होते सब खत्म हो जाएगा

अगले दिन फिर सड़के गंदी ही मिलेगी
देश का झंडा कहीं ना कहीं गिरा हुआ जरूर मिलेगा
पगड़ी वाले का मौन व्रत फिर से शुरू होगा
छप्पन इंच का सिना फिर सिकुड़ेगा

क्युकिं आजादी का पर्व जो खत्म हो गया है
भ्रष्टाचार कर लोग आपनी जेबें गरम करेंगे
लड़कीयों को छेड़ कर गुंडें-मवाली आपनी आँखें सेका करेंगे
बलात्कार और रेप कर आपनी हैवानीयत का प्रदर्शन करेंगें
जाती और धर्म के नाम पर दंगा कर नंगा नाच करेंगे
और जो कुछ भी बचा हो वो सब हम करेंगे
क्युकिं आजादी का पर्व जो खत्म हो गया है

देश कि हालाता बहुत अजीब सी हो गई है
हर गली में एक रोता हुआ आशिक जरूर मिलेगा
हर गली में एक इंजीनियर जरूर मिलेगा
हर गली में एक डॉक्टर जरूर मिलेगा
पर शायद ही एक एैसा इंसान मिलेगा जो गर्व से सेना को या देश को समर्पित होता नज़र आएगा
लेकिन हर गली में देश को बर्बाद करने वाली एक सोच जरूर मिलेगी
जो कभी भगवे रंग से
तो कभी हरे रंग से
तो कभी सफेद रंग से
नफरत करती नजर आएँगी

पर उन छोटी सोच वालों को कौन समझाए
कि जिस रंगों से उन्हें नफरत है
अगर वो सभी रंगों को जोड़ दिया जाए
तो वह भारत देश का झंडा “तिरंगा” बन जाता है
और वह बिन हवा के तिरंगा आज भी लहरा रहा है
क्युकिं सेना का जवान और खेत का किसान
बिन बेईमानी जी रहा है

सोच अच्छी हो और देश के लिए कुछ करने के लिए आगे बढ़ो तो
कुछ एैसे अधिकारी सामने आ ही जाते है
जो कहते है “ये सब से तो देश को फायदा होगा पर हमारा क्या फायदा”

आज से 8401 दिन पहले एक एैसे हि इंसान का जन्म हुआ। जिनका दिल सिर्फ और सिर्फ देश सेवा के लिए धड़कता है। 12साल तक सैनिक स्कूल में पढ़ कर खुद के अंदर एक जुनून पैदा किया।

चार साल तक इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन के क्षेत्र में अपनी इंजीनियरिंग कि पढ़ाई पुरी कि। चार साल में इन्होंने अपने दोस्तों को देश सेवा का महत्व बतलाया, सेना के शौर्य कि गाथा सुनाई, जिंदगी का सही अर्थ समझाया है। यह जब भी किसी से मिलते तो उसे प्रेरित हि करते है।

यह तो मेरा परम-सौभाग्य है कि मैं इनके साथ 4साल तक साथ रहा और मुझे इनकी प्रतिभा को जानने का, देखने का अवसर मिला। हम लोग कॉलेज के आखिरी दिनों में एक प्रोजेक्ट(सेना से संबंधित!!!सुरक्षा और निगरानी!!!) पर काम कर रहें थे, हम लोगों ने उस प्रोजेक्ट को पुरा तो किया पर समय और पैसे कि कमी के चलते हमने जैसा चाहा था वैसा कर नही पाए। पर जो भी हो वह प्रोजेक्ट पूरे कॉलेज में एक चर्चा का विषय जरूर था। सभी लोगों में हमारे प्रोजेक्ट को देखने कि उत्सुकता थी। लेकिन जो भी हो मुझे पूरा विश्वास है कि इनके अंदर जो तकनीकी हुनर, अनुभव, योग्यता है वो पूरा विश्व एक दिन जरूर देखेगा।

आज भारतीय सेना पूरे विश्व में चौथे स्थान पे है, पर वह दिन दुर नहीं जब भारतीय सेना पूरे विश्व में पहले स्थान पर चम-चम-चमाआएगी। क्युकि जिसमें उद्यम, साहस, धैर्य, बुद्धि, शक्ति और पराक्रम होता है सफलता उसके चरण चुमती है। एैसे ही प्रतिभाशाली व्यक्ति है वें। मैं जिनकी बात कर रहा हुं वह और कोई नहीं, मेरे दिल में रहने वाले अद्वितीय प्रधान है और आज इस आजादी के पर्व के दिन इनका शुभ जन्मदिन है।

इनको इनके जन्मदिन कि बहुत-बहुत शुभकामनाएँ। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हुं कि आपको आपकी मंजिल जल्द से जल्द मिले।

आप भारतीय सेना में एक अधिकारी के रूप योगदान दे। आपनी तकनीकी हुनर, अनुभव, योग्यता का कौशल दिखाएँ और भारत देश का सर गौरव से ऊँचा करें।

हमारा दिल सिर्फ दो दिन हि देश के लिए धड़कता है

एक स्वतंत्रता दिवस और दुसरा गणतंत्र दिवस
पर कुछ अजीब सा नशा है सेना के जवानों में
सब कुछ छोड़ सिर्फ देश के लिए जिना और मिटना है।

मुझे 2015 कि कुछ बात याद आ रही है
जब मेरी बात 18 वीं बटालियन सिख रेजिमेंट के एक अधिकारी से हो रही थी। उन्होंने कुछ बातें कही थी, जो सच में हमें सोचने पे मजबूर कर देती है

  • तुम जिसे सेना का नशा कहते हो वो हमारा कर्तव्य है और हम अपना कर्तव्य निभा रहें है।
  • जब हम सरहद पर देश कि रक्षा कर रहे होते है तो हमें देश के भीतर क्या चल रहा है इस बात कि फिक्र नहीं होती। लेकिन जब देश के अंदर कुछ महीनें हम अपनी रेजिमेंट में ड्यूटी करते है और देश कि आंतरिक हालात देखते है तो बहुत तकलीफ होती है।
  • अगर सेना का जवान पैसे लेकर दुश्मनों को सरहद पार करने दे तो इस देश कि क्या स्थिति होगी????
  • देश कि सुरक्षा के लिए जो हथियार हमें मिले है, उसका इस्तेमाल हम गलत ढंग से करे तो????
  • सरहद पर सेना का जवान हिंदू-मुस्लिम-सिख-ईसाई कर झगड़ा सुरू कर दे दो?
  • सरहद पर सेना का जवान अपनी माँगों को लेकर स्ट्राइक कर दे तो और अपना फर्ज कुछ पल के लिए छोड़ दे तो????
  • एक घर को चलाने के लिए, पिता बाहर जा कर चार पैसे कमाता है, उसी पैसे से माँ घर को चलाती है। तब जा कर वह घर सुखी रहता है

वैसे ही

  • भारतीय सेना देश कि सरहद पर दुश्मनों से लड़ती है। तो देश के अंदर हर देशवासियों को उन सभी बुराईंयों से थोड़ा-थोड़ा लड़ना चाहिए।

यह भारत देश हमारी माँ है…….सिर्फ सेना का हि कर्तव्य नही है…….देश के हर नागरिक का कर्तव्य है।

भारत माता को आजादी दिलाने के लिए
कितने ही वीर-सेनानियों ने अपनी लहू को बहाया है।

हमारे वीर-सेनानि कभी किसी से
नहीं डरते
नहीं झुकते
नहीं टूटते
हमारी भारतीय सेना भी कुछ एैसी ही है

पर इस देश कि आंतरिक स्थिति एैसी क्युं है??

क्या सिर्फ प्रशासन कि ही गलती है???
क्या सिर्फ सेना कि ही गलती है???
क्या सिर्फ सरकार कि ही गलती है???

जो भी हो हम ही

प्रशासन मुरादाबाद के नारे लगाएँगे!!!
सेना पर पत्थर भी चलाएँगे!!!
हर पाँच साल में सरकार भी बदलेगें!!!

और बड़ी बड़ी बाते करेंगे…….
पर कभी खुद को नहीं बदलेगें……..

आज पैसे से आजादी भी बिक रही है

न्यायालय में न्याय बिक रहा है
अस्पताल में स्वास्थ्य बिक रहा है
विद्यालयों में शिक्षा बिक रहा है

बहुत दुःख होता है मुझे!!!

जब किसी भारतीय से पूछता हुं कि देश के दस हीरो का नाम बताओ तो वह बॉलीवुड के हीरो का नाम बतलाते है।

अगर मैं उनसे मुँह खोल के भारतीय सेना के जाँबाज अफसरों का नाम पूछ दुं

तो उनके पसीने छुट जाते है।

कुछ ज्यादा हि कह गया ना मैं????
कुछ ज्यादा हि देशभक्ति दिखा दि ना????
माफी चाहता हूं अपने दोनों हाथ जोड़🙏 कर अगर किसी की भावना को चोट पहुंची हो तो।
क्या करू एक दिन कि आजादी का पर्व जो है………

आजादी हमारी जिम्मेदारी होनी चाहिए।
बस इतनी सी हि बात समझना है हमें।

आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।
भारत माता कि जय!!!
वन्दे मातरम् दोस्तों!!!

Special Thanks to Nitu Verma & SG16 for your help and encouragement🙏😊

Author:

I am Ashish Kumar. I am known as Shanky. I was born and brought up in Ramgarh, Jharkhand. I have studied Electronics and Communication Engineering. I have written 6 books. I have come to know so much of my life that life makes me cry as much as death. Have you heard that this world laughs when no one has anything, if someone has everything, this world is longing for what I have, this world. Whatever I am, I belonged to my beloved Mahadev. What should I say about myself? Gradually you will know everything.

57 thoughts on “आजादी का पर्व……!!!!

    1. आप इतना क्युं सोचते है प्रधान जी!!!! मेरी बात मान लीजिए। हमारे दोस्तों के ग्रुप में एक आप ही है जो ये डिज़र्व करते है।
      जय हिन्द!!!

      Liked by 2 people

  1. वाह क्या खूब लिखा है।
    पर उन छोटी सोच वालों को कौन समझाए
    कि जिस रंगों से उन्हें नफरत है
    अगर वो सभी रंगों को जोड़ दिया जाए
    तो वह भारत देश का झंडा “तिरंगा” बन जाता है
    और वह बिन हवा के तिरंगा आज भी लहरा रहा है
    क्युकिं सेना का जवान और खेत का किसान
    बिन बेईमानी जी रहा है।

    वैसे कुछ समस्याएं सरकार की उपज है कुछ हमने पैदा की है।छोटा परिवार सुखी परिवार।
    स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।👌👌

    Liked by 1 person

    1. बहुत बहुत धन्यवाद सर आपका🙏😊
      आपको भी स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!!!! जय हिन्द!!!

      Liked by 1 person

  2. Totally speechless & I agree with your point of view.
    What is your ambition? I want to join an Indian Army, replied the kid whose late father is a soldier.😯
    Happy Independence Day

    Liked by 1 person

  3. ….what I say I can’t understand…. You write everything of our country…. Reality…..not just reality it is truth reality 👏👏👏….जय हिंद 😊😊😊
    🍭🍭🍬 your lollipop

    Liked by 1 person

  4. Great…not only images also Every word is true…thanks for Sharing this post…🇮🇳Happy Independence Day🇮🇳 and also Happy RakshaBandhan 😊☺️

    Liked by 1 person

  5. Some point touch to my heart. Its really good and solo to person how determine the meaning of patriotism.
    “DESH KE BADA KUCH NHI”
    Really a nice blog.

    Liked by 1 person

  6. मनमोहन सिंह की चुपी भी तुम्ही लोगो की वजह से थी कियुकी तुम्हारी तादात जायदा हे उसी का तुम्हे फायदा हे जनता तो वही थी न तब भी अब भी सिर्फ पार्टी बदली हे नरसिम्हा राओ जो अब मर चूका हे उसने फौज को रोका और 1984 में तुमसे क़त्लेआम होने दिया जो हिन्दू ही था मनमोहन सिंह की बात न मान जितना ज्ञान मनमोहन सिंह जी को हे उस हिसाब से तुम्हारा आका अभी भी पहली किलास में हे बाकी वक़्त बताए गा, कर्म किये जा फल की इच्छा मत कर एह इंसान जैसे कर्म करेगा वैसे फल देगा भगवान

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.